‘राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष थे, हैं और भविष्य में भी रहेंगे.’  

— रणदीप सिंह सुरजेवाला, कांग्रेस के प्रवक्ता

रणदीप सिंह सुरजेवाला ने यह बात कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ हुई एक बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष बने रहने को लेकर हमें कोई संदेह नहीं है.’ इससे पहले बीते महीने घोषित लोकसभा चुनाव के नतीजों में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन को देखते हुए राहुल गांधी ने कांग्रेस का अध्यक्ष पद छोड़ने की पेशकश की थी.

‘उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी का शासन जंगल राज जैसा है.’  

— मायावती, बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष

मायावती ने यह बात एक ट्वीट के जरिये उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कही है. इसी ट्वीट से उन्होंने उत्तर प्रदेश बार काउंसिल की नव-निर्वाचित अध्यक्ष दरवेश यादव की हत्या को दुखद और निंदनीय भी बताया. इसके साथ ही मायावती ने यह भी कहा, ‘शामली में पुलिस द्वारा पत्रकारों की अकारण पिटाई जैसी घटनाएं साबित करती हैं कि लोकसभा चुनाव के बाद भाजपा के शासन में अराजकता और जंगलराज बढ़ गया है.’


‘मदरसों में नाथूराम गोडसे और प्रज्ञा ठाकुर जैसे स्वभाव के लोग पैदा नहीं होते.’  

— आजम खान, समाजवादी पार्टी के नेता

आजम खान ने यह बात केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्यमंत्री मुख्तार अब्बास नकवी के एक बयान पर पलटवार करते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘यदि सरकार मदरसों के लिए कुछ करना ही चाहती है तो उसे इनकी इमारतों और फर्नीचर जैसी सुविधाएं बढ़ाने पर ध्यान देना चाहिए. स्कूलों की तरह मदरसों में भी सरकार को मिड डे मील की सुविधा शुरू करनी चाहिए.’ इससे पहले इसी मंगलवार को मुख्तार अब्बास नकवी ने मदरसों को मुख्यधारा की शिक्षा से जोड़ने की बात कही थी.


‘भारत से सार्थक बातचीत के लिए पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई करनी होगी.’  

— हुसैन हक्कानी, अमेरिका में पाकिस्तान के पूर्व राजदूत

हुसैन हक्कानी ने यह बात भारत-पाकिस्तान के बीच सामान्य संबंधों की बहाली में भारत की तरफ से की जा रही मांग का समर्थन करते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘जब तक पाकिस्तान अपने क्षेत्र में मौजूद आतंकवाद के ढांचे को पूरी तरह खत्म नहीं करता भारत के साथ उसकी वार्ता बेनतीजा ही रहेगी.’ हुसैन हक्कानी का यह भी कहना था, ‘पाकिस्तान भारत के साथ लगातार बातचीत शुरू करने की कोशिश कर रहा है जो कि अंतरराष्ट्रीय दबाव का नतीजा है.


‘युवराज सिंह मेरी सर्वकालिक महान खिलाड़ियों की सूची में रहेंगे.’  

— कपिल देव, पूर्व क्रिकेटर

कपिल देव ने यह बात भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सदस्य युवराज सिंह के संन्यास को लेकर कही है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘व्यक्तिगत तौर पर मैं समझता हूं कि उन्हें मैदान से विदाई मिलनी चाहिए थी.’ उनका यह भी कहना था, ‘हमारे देश को युवराज सिंंह जैसे नायकों की जरूरत है जो आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित कर सकें.’