ब्रिटेन के नये प्रधानमंत्री के लिए प्रथम चरण के मतदान में कद्दावर कंजर्वेटिव नेता बोरिस जॉनसन सबसे आगे रहे हैं. उन्हें अन्य दावेदारों से कहीं अधिक वोट मिले हैं. इस तरह बोरिस जॉनसन ने निवर्तमान प्रधानमंत्री टेरेसा मे की जगह लेने के लिए अपनी दावेदारी मजबूत कर ली है.

पीटीआई के मुताबिक गुरूवार को प्रथम चरण के मतदान में जॉनसन को संसद के निचले सदन ‘हाउस ऑफ कॉमंस’ में टोरी यानी कंजर्वेटिव पार्टी के सांसदों के 114 वोट मिले. वहीं, ब्रिटेन के विदेश मंत्री जेरेमी हंट 43 वोटों के साथ दूसरे स्थान पर रहे हैं और पर्यावरण मंत्री 37 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर रहे.

हालांकि, तीन दावेदार मार्क हार्पर, एंड्री लीडसम और ईस्थर मैकवे, न्यूनतम आवश्यक 17 वोट भी हासिल नहीं कर पाने की वजह से प्रधानमंत्री पद की दौड़ से बाहर हो गए हैं.

अब अगले हफ्ते होने वाले दूसरे चरण के मतदान के लिए सात दावेदार मैदान में हैं जिनमें पूर्व ब्रेक्जिट मंत्री डोमीनिक राब, गृह मंत्री साजिद जाविद, स्वास्थ्य मंत्री मैट हानकॉक और अंतरराष्ट्रीय विकास मंत्री रोरी स्टीवर्ट भी शामिल हैं. इन्हें पहले चरण के मतदान में क्रमश: 27, 23, 20 और 19 वोट मिले हैं.

इसके बाद इन सातों में दो सर्वाधिक लोकप्रिय सांसदों का नाम इस महीने के आखिर में अंतिम मतदान के लिए टोरी पार्टी के सदस्यों के बीच रखा जाएगा. इसमें विजेता रहने वाले उम्मीदवार को टेरेसा की जगह प्रधानमंत्री चुना जाएगा. अंतिम दौर के चुनाव परिणाम की घोषणा 22 जुलाई को किए जाने की उम्मीद है.

इससे पहले सात जून को टेरेसा मे ने कंजरवेटिव पार्टी की नेता के तौर पर आधिकारिक रूप से इस्तीफा दे दिया था, लेकिन वह अपने उत्तराधिकारी के चुने जाने तक प्रधानमंत्री के पद पर बनी रहेंगी.