‘हमें उम्मीद है कि नरेंद्र मोदी प्रचंड जनादेश का इस्तेमाल भारत-पाकिस्तान के आपसी संबंधों को सुधारने में भी करेंगे.’  

— इमरान खान, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री

इमरान खान ने यह बात बिश्केक में हो रहे शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) सम्मेलन के लिए रवाना होने से पहले एक इंटरव्यू के दौरान कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘मौजूदा समय में भारत के साथ हमारे द्विपक्षीय संबंध शायद अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रहे हैं. दोनों देशों के संबंधों को सुधारने के लिए पाकिस्तान किसी भी तरह की मध्यस्थता के लिए तैयार है.’ इसके साथ ही इमरान खान का यह भी कहना था, ‘पाकिस्तान अपने सभी पड़ोसियों और विशेष तौर पर भारत के साथ शांति की उम्मीद करता है.’

‘शांति वार्ता के लिए पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ ठोस कदम उठाने होंगे.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात एससीओ सम्मेलन में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ हुई एक अलग बैठक के दौरान कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘भारत चाहता है कि पाकिस्तान के साथ हमारे शांतिपूर्ण रिश्ते हों. साथ ही वह आतंकवाद मुक्त क्षेत्र बनने की दिशा में कदम बढ़ाए. लेकिन हमें ऐसा कुछ होता दिखाई नहीं पड़ रहा.’ इस मौके पर नरेंद्र मोदी और शी जिनपिंग ने बीते साल हुई वुहान वार्ता को भी याद किया. साथ ही दोनों नेताओं ने भारत-चीन के बीच आर्थिक और सांस्कृतिक क्षेत्र में पारस्परिक सहयोग बढ़ाने को लेकर भी चर्चा की.


‘सिर्फ सत्ता में बने रहने के लिए भाजपा ने मर्यादा की सभी सीमाएं तोड़ दी हैं.’  

— सोनिया गांधी, कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष

सोनिया गांधी ने यह बात अपने संसदीय क्षेत्र रायबरेली में एक जनसभा संबोधित करने के दौरान कही. इस मौके पर उन्होंने लोकसभा के बीते चुनाव की प्रक्रिया पर संदेह भी जताया. साथ ही कहा, ‘बीते चुनाव में मतदाताओं को रिझाने के लिए तमाम तरह के हथकंडे अपनाए गए. हर कोई वाकिफ है कि चुनाव के दौरान जो कुछ हुआ उसमें क्या नैतिक था और क्या अनैतिक.’ इसके साथ ही सोनिया गांधी का यह भी कहना था, ‘प्रचार के दौरान आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बयानों को चुनाव आयोग ने गंभीरता से नहीं लिया.’


‘भारत अपना खुद का स्पेस स्टेशन लॉन्च करने की योजना बना रहा है.’  

— के सिवन, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष

के सिवन ने यह बात नई दिल्ली में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘यह महत्वाकांक्षी परियोजना भारत के मानयुक्त गगनयान मिशन का ही विस्तार होगा क्योंकि साल 2022 में गगनयान मिशन की शुरुआत करने के बाद हमें मानवयुक्त ​अभियानों को आगे बढ़ाना होगा.’ भारत का यह स्पेस स्टेशन 2030 तक लॉन्च हो सकता है. इसका वजन करीब 20 टन होगा. अभी तक सिर्फ अमेरिका, रूस और चीन के पास ही अपने स्पेस स्टेशन हैं.


‘यदि खेलने लायक स्थिति न हो तो खिलाड़ियों का मैदान पर न उतरना ही बेहतर है.’  

— विराट कोहली, भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान

विराट कोहली ने यह बात क्रिकेट विश्व कप में भारत-न्यूजीलैंड के बीच गुरुवार को खेले जाने वाले मैच के बारिश की वजह से रद्द होने के बाद कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘हम अच्छा क्रिकेट खेल रहे हैं. हमें इस बात की कोई चिंता नहीं है कि अंकतालिका में हम कहां हैं. हम नहीं चाहते कि टीम का कोई अन्य खिलाड़ी चोट का शिकार हो.’ विराट कोहली का यह भी कहना था, ‘बीते मैच में चोटिल हुए शिखर धवन के अंगूठे में प्लास्टर लगा है लेकिन उनके सेमीफाइनल में उपलब्ध रहने की संभावना जताई जा रही है. शिखर की चोट पर हमारी नजर बनी हुई है.’