‘ममता बनर्जी डॉक्टरों की समस्या का राजनीतिकरण कर रही हैं.’  

— सीताराम येचुरी, माकपा के महासचिव

सीताराम येचुरी ने यह बात एक ट्वीट के जरिये कही. इसी ट्वीट से उन्होंने यह भी कहा, ‘ममता बनर्जी की अगुवाई वाली पश्चिम बंगाल सरकार को इस मामले में अपनी बुनियादी जिम्मेदारी निभानी चाहिए. साथ ही आंदोलन में शामिल डॉक्टरों से खुद बातचीत की पहल करके इस संकट को युद्धस्तर पर सुलझाना चाहिए.’ सीताराम येचुरी के मुताबिक राज्य सरकार के रवैये के कारण पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल से चिकित्सा सेवाओं का संकट गहरा गया है.

‘पश्चिम बंगाल में रहने वालों को बांग्ला सीखनी होगी.’  

— ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री

ममता बनर्जी ने यह बात पश्चिम बंगाल के कांचरपाड़ा में एक जनसभा को संबोधित करने के दौरान कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘मैं बंगाल में रह रहे गैर बंगालियों के खिलाफ नहीं हूं, लेकिन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लोग बंगाली और गैर बंगाली का भेद पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं.’ इसके साथ ही ममता बनर्जी ने यह भी कहा, ‘हम जब दिल्ली जाते हैं तो हिंदी में बोलते हैं. पंजाब जाने पर पंजाबी में बोलते हैं. इसलिए अगर आप बंगाल में आते हैं तो आपको बांग्ला बोलनी होगी.’


‘एससीओ के देशों को आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होकर लड़ना होगा.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) सम्मेलन में दिए अपने संबोधन में कही. इसके साथ ही उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन कराए जाने की जरूरत भी जताई. इस मौके पर नरेंद्र मोदी ने एससीओ देशों को ‘हेल्थ सहयोग’ का मंत्र भी दिया. नरेंद्र मोदी ने एच का मतलब हेल्थ को-ऑपरेशन (स्वास्थ्य क्षेत्र में सहयोग), ई से इकॉनामिक को-ऑपरेशन (आर्थिक सहयोग), ए से अल्टरनेट एनर्जी (वैकल्पिक ऊर्जा), एल से लिटरेचर एंड कल्चर (साहित्य तथा संस्कृति), टी से टेररिज्म फ्री सोसायटी (आतंकवाद मुक्त समाज) और एच का अर्थ ह्यूमेनिटेरियन अप्रोच (मानवतावादी रवैया) से बताया.


‘दक्षिण एशिया में शांति और समृद्धि के लिए टकराव को निकालकर सहयोग को बढ़ावा देना होगा.’  

— इमरान खान, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री

इमरान खान ने यह बात एससीओ सम्मेलन में दिए अपने संबोधन के दौरान कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘दक्षिण एशियाई देशों को गरीबी, निरक्षरता, रोग और अल्प विकास जैसी साझा चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है. इसलिए लंबित मुद्दों का शांतिपूर्ण हल तलाशना होगा.’ इस मौके पर इमरान खान ने हर तरह के आतंकवाद की निंदा भी की. साथ ही कहा, ‘पाकिस्तान उन कुछ देशों में शामिल है जो सफलतापूर्वक आतंकवाद को परास्त कर पाए हैं.’


‘आपको हर क्षेत्र में आक्रामकता दिखानी होगी.’  

— सचिन तेंदुलकर, पूर्व क्रिकेटर

सचिन तेंदुलकर ने यह बात क्रिकेट विश्व कप प्रतियोगिता में इसी रविवार को भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले मैच को लेकर भारतीय टीम को नसीहत देते हुए कही है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘इस मैच में विराट कोहली और रोहित शर्मा को पिच पर टिककर खेलना होगा. अगर बल्लेबाज विपक्षी गेंदबाजों को हावी नहीं होने देने में कामयाब रहे तो वे ज्यादा से ज्यादा रन बटोर सकेंगे.’ सचिन तेंदुलकर ने आगे कहा कि इस मैच में भारतीय खिलाड़ियों की ‘बॉडीलैंग्वेज’ और उनका ‘आत्मविश्वास’ भी अहम भूमिका निभाएगा.