गुजरात के वडोदरा में एक सेप्टिंक टैंक की सफाई के दौरान सात लोगों के मारे जाने की खबर है. न्यूज एजेंसी एएनआई ने बताया कि घटना जिले के एक होटल की है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक सभी की मौत कथित रूप से दम घुटने से हुई है. मृतकों में चार सफाईकर्मी बताए जा रहे हैं. बाकी तीन होटल के कर्मचारी थे.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक शुक्रवार रात को हुई इस घटना के बाद होटल के मालिक हसन अब्बास भोरानिया पर गैर-इरादतन हत्या और लापरवाही का मामला दर्ज किया गया है. अखबार ने बताया कि मरने वालों के नाम महेश पटनवाडिया, अशोक हरिजन, बृजेश हरिजन, महेश हरिजन, विजय चौधरी, सहदेव वसावा और अजय वसावा हैं. अशोक, महेश, बृजेश और पटनवाडिया को सेप्टिक टैंक की सफाई के लिए बाहर से बुलाया गया था. जबकि चौधरी, सहदेव और अजय को चारों सफाईकर्मियों की मदद के लिए लगाया गया था.

पुलिस के मुताबिक महेश पटनवाडिया सबसे पहले टैंक में घुसे थे. लेकिन जब वे नहीं लौटे तो उनके साथी उन्हें बचाने के लिए एक के बाद एक नीचे उतरे. बाद में होटल के तीनों सहयोगी भी टैंक के नीचे गए. लेकिन उनमें से कोई भी जिंदा नहीं लौटा. एक अधिकारी ने बताया कि बाद में वडोदरा नगर पालिका के सीवर साफ करने वाले वाहन से टैंक की सफाई कर दी गई.