विधानसभा और लोकसभा चुनाव में बुरी तरह हारी तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) को गुरुवार को एक और बड़ा झटका लगा. राज्यसभा में टीडीपी के चार सदस्य पार्टी से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो गए. इस खबर को आज के कई अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने टीडीपी के तीन राज्यसभा सांसदों को पार्टी में औपचारिक तौर पर शामिल कराया. वहीं, एक राज्यसभा सांसद तबीयत खराब होने के कारण इस मौके पर आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल नहीं हो पाए. दूसरी ओर, टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू ने पार्टी के कमजोर करने की भाजपा की कोशिशों की निंदा की है. साथ ही, उन्होंने कहा है कि इससे पार्टी कार्यकर्ताओं को हतोत्साहित होने की जरूरत नहीं है.

केरल : पांच महीने पहले लापता 243 लोगों की अब तक कोई खबर नहीं, परिजनों ने केंद्र से गुहार लगाई

केरल में जनवरी, 2019 से लापता 243 लोगों की अब तक कोई खबर नहीं है. ये सभी एक नाव पर सवार होकर सैर के लिए न्यूजीलैंड निकले थे. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक पांच महीने गुजरने के बाद इनके परिजनों ने अब दिल्ली पहुंचकर केंद्र सरकार से इन्हें ढूंढ़ने की अपील की है. उन्हें सरकार से उम्मीद है कि वह उनके परिवार के सदस्यों को ढूंढ़ लाएगी या इनके बारे में कोई खबर देगी. इससे पहले इन सभी ने केरल सरकार से भी मदद की गुहार लगाई थी. हालांकि, इनकी मानें तो राज्य सरकार से इन्हें कोई मदद नहीं मिली.

उत्तर प्रदेश : गाजीपुर में स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण में लाखों रुपये का घोटाला

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय निर्माण में लाखों रुपये का घोटाला सामने आया है. राजस्थान पत्रिका में छपी खबर के मुताबिक जिले के अकरमपुर उर्फ बंजारीपुर गांव में 422 शौचालय बनने थे. लेकिन, इनके नाम पर लाखों रुपये का गबन कर लिया गया. इस मामले में ग्राम सचिव के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है. लेकिन, विभागीय अधिकारी इस पर चुप्पी साधे हुए हैं. साथ ही, जांच के नाम पर लीपापोती करने का भी आरोप लगाया गया है. वहीं, शिकायतकर्ता का कहना है कि बने हुए शौचालय में 100 भी ऐसे नहीं हैं, जिनका लोग इस्तेमाल कर सकें. इसके अलावा सार्वजनिक जगहों पर निर्मित शौचालयों पर इलाके के दबंगों ने निजी उपयोग के लिए कब्जा कर लिया है.

राजद ने टीवी न्यूज चैनलों पर बहस में हिस्सा लेने से पार्टी के नेताओं को रोका

कांग्रेस और समाजवादी पार्टी (सपा) के बाद अब राजद भी टीवी न्यूज चैनलों पर होने वाली बहसों में हिस्सा लेने से मना कर दिया है. दैनिक जागरण में प्रकाशित खबर के मुताबिक पार्टी के प्रधान महासचिव आलोक कुमार मेहता ने इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा, ‘राजद का कोई भी नेता, प्रवक्ता, विधायक और सांसद किसी भी बहस में हिस्सा नहीं लेगा.’ आलोक ने आगे कहा, ‘अगर कोई व्यक्ति विशेष खुद को राजद नेता बताकर ऐसे बहसों में हिस्सा लेता है तो उसके बयान को पार्टी का अधिकृत बयान नहीं माना जाएगा. वहीं, मौजूदा प्रवक्ताओं की सूची को भी निरस्त कर दिया गया है. बताया जाता है कि ऐसा पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और तेजस्वी यादव के आदेश पर किया गया है.

बिहार : एसकेएमसीएच ने कैदी वार्ड को आईसीयू में बदला

चमकी बुखार से पीड़ित मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए बिहार के मुजफ्फरपुर स्थित अस्पताल ने कैदियों के लिए बने वार्ड को आईसीयू में बदलने का फैसला किया है. द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (एसकेएमसीएच) ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दौरे के बाद यह फैसला लिया है. मुख्यमंत्री ने मरीजों के लिए पर्याप्त बेड उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे. इससे पहले अस्पताल में चमकी बुखार से पीड़ित बच्चों के लिए आईसीयू में जरूरत के मुताबिक बेड न होने की बात सामने आई थी. इसकी वजह से दो से तीन बच्चों का एक ही बेड पर इलाज किया जा रहा था.

पेट्रोल पंपों की संख्या को बढ़ाकर दोगुनी करना अव्यावहारिक : क्रिसिल रिसर्च

शोध संस्था क्रिसिल रिसर्च ने देश में पेट्रोल पंपों की संख्या को बढ़ाकर दोगुनी करने के फैसले को अव्यावहारिक बताया है. हिन्दुस्तान की खबर के मुताबिक संस्था ने इस पर जारी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि इससे इन सभी को नुकसान होगा. इसकी वजह आपसी प्रतिस्पर्द्धा का होना बताया गया है. क्रिसिल की मानें तो फिलहाल देश में इसकी संख्या में 30,000 की बढ़ोतरी की जा सकती है. इससे पहले तेल कंपनियों ने पूरे देश में 78,493 पेट्रोल पंप खोलने को लेकर विज्ञापन जारी किया था.