अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि उन्हें ईरान पर हमला करने की कोई जल्दी नहीं है. शुक्रवार को डोनाल्ड ट्रंप ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर कहा, ‘मैं किसी जल्दबाजी में नहीं हूं. इसलिए मैंने ईरान पर हमले से 10 मिनट पहले इसे रुकवा दिया.’ उनके मुताबिक एक जनरल ने उन्हें बताया कि अगर अमेरिका हमला करता है तो ईरान के 150 नागरिक मारे जा सकते हैं और ऐसे में यह हमला एक संतुलित प्रतिक्रिया नहीं होगा.

गुरूवार को ईरान की सेना ‘रिवोल्यूशनरी गार्ड’ ने दावा किया था कि उसने हर्मुज जल क्षेत्र के पास अपने हवाई इलाके में एक अमेरिकी जासूसी विमान (ड्रोन) को मार गिराया है. इसके बाद अमेरिका ने ईरान के दावे को खारिज करते हुए कहा कि जब उसके ड्रोन विमान पर मिसाइल से हमला हुआ तब वह ईरानी हवाई क्षेत्र में नहीं था, बल्कि अंतरराष्ट्रीय हवाई क्षेत्र में था.

इस घटना के बाद शुक्रवार तड़के खबर आई कि ईरान की इस कार्रवाई का जवाब देने के लिए डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी बलों को उस पर हमला करने के लिए भेजने का फैसला किया था, लेकिन बाद में इसे वापस ले लिया.