उत्तर प्रदेश में छेड़खानी का विरोध करना एक दलित परिवार को भारी पड़ गया. घटना सोमवार की शाम बुलंदशहर के चांपुर गांव में हुई. खबर के मुताबिक यहां कुछ दबंग लोगों ने कथित रूप से पहले महिलाओं से छेड़छाड़ की. जब उनके परिवार ने इसका विरोध किया तो आरोपितों ने उन पर गाड़ी चढ़ा दी. एनडीटीवी के मुताबिक इस घटना में परिवार की दो महिलाओं की मौत हो गई है, वहीं दो लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं.

उधर, घटना के बाद जब गुस्साए रिश्तेदारों और गांव के लोगों ने हंगामा किया तो पुलिस ने इसे सड़क दुर्घटना बताया. उसने दावा किया कि परिवार ने पहले अपने सदस्यों के ट्रक से कुचले जाने की सूचना दी थी. बाद में उन्होंने इसे छेड़खानी से जोड़ते हुए कहा कि आरोपितों ने परिवार के चार सदस्यों पर कार चढ़ा दी. खबर के मुताबिक पुलिस ने पहले सड़क दुर्घटना का मामला दर्ज किया था. अब वह 30 साल के अगड़ी जाति के एक युवक के खिलाफ परिवार पर गाड़ी चढ़ाने के आरोप की जांच कर रही है.

वहीं, छेड़खानी की एक पीड़िता भी सामने आई है. उसने बताया कि पड़ोसी गांव का एक युवक उससे बदसलूकी कर रहा था. लड़की के मुताबिक कार से परिवार के सदस्यों को कुचलने से पहले उसने धमकी भी दी थी.