पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के एक और विधायक ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया है. उनके साथ टीएमसी के 10 ज़िला परिषद सदस्यों ने भी भाजपा की सदस्यता ली है. इस घटना क्रम के बाद टीएमसी से भाजपा में आए वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय ने कहा है, ‘ये तो अभी ट्रेलर है. फिल्म अभी बाकी है.’

ख़बरों के मुताबिक दक्षिणी दिनाजपुर के विधायक विल्सन चंप्रामरी ने भाजपा की सदस्यता ली है. उनके साथ ज़िला परिषद अध्यक्ष लिपिका रॉय और अन्य सदस्य भी भाजपा में शामिल हुए हैं. चंप्रामरी पांचवें टीएमसी विधायक हैं जिन्होंने हाल ही में भाजपा की सदस्यता ली है. इन सभी के अलावा पूर्व विधायक और टीएमसी की दक्षिणी दिनाजपुर इकाई के पूर्व अध्यक्ष बिप्लब मित्रा भी भाजपा में शामिल हुए हैं.

इसके बाद दक्षिणी दिनाजपुर ज़िला परिषद में भाजपा बहुमत में आ गई है. राज्य की यह पहली ज़िला परिषद है जो बिना चुनाव के ही सत्ताधारी टीएमसी से पाले से खिसककर विपक्षी भाजपा के पास चली गई है. बीते साल हुए पंचायत चुनावों में टीएमसी ने राज्य की सभी 22 ज़िला परिषदों पर कब्ज़ा जमाया था. लेकिन इस साल लोकसभा चुनाव के दौरान दक्षिण दिनाजपुर और बलूरघाट सीटें भाजपा ने जीती थीं.

बहरहाल टीएमसी नेताओं के भाजपा में आने के मसले पर मुकुल रॉय ने कहा है, ‘अभी पहला चरण पूरा हुआ है. जब सातवां चरण पूरा होगा राज्य में ममता बनर्जी की सरकार नहीं रहेगी.’ इससे पहले भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भी कहा था कि जिस तरह पश्चिम बंगाल में सात चरणों में लोकसभा चुनाव हुए उसी तरह सात ही चरणों में टीएमसी के तमाम बड़े नेता भाजपा में आने वाले हैं.’