वैश्विक कूटनीति के क्षेत्र में भारत को बड़ी सफलता हाथ लगी है. ख़बरों के मुताबिक संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अस्थायी सदस्य के रूप में भारत की उम्मीदवारी का एशिया-प्रशांत क्षेत्र के सभी 55 देशों (चीन-पाकिस्तान भी शामिल) ने समर्थन किया है.

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने इस बाबत ट्वीट किया. इसमें उन्होंने बताया, ‘सर्वसम्मति से उठाया गया कदम. संयुक्त राष्ट्र के एशिया-प्रशांत समूह ने सर्वसम्मति से सुरक्षा परिषद की दो साल की अस्थायी सदस्यता के लिए भारत की उम्मीदवारी का समर्थन किया है. समर्थन के लिए समूह के सभी 55 सदस्यों का धन्यवाद.’

ख़बरों के मुताबिक 15 सदस्यों वाली दुनिया की सबसे ताक़तवर संस्था सुरक्षा परिषद के पांच अस्थायी सदस्यों का कार्यकाल ख़त्म हाे रहा है. इन सीटों को भरने के लिए अगले साल जून में चुनाव होने वाले हैं. नए चुने गए सदस्यों का कार्यकाल 2022 तक रहेगा. दुनिया के 193 सदस्य देशों वाली संयुक्त राष्ट्र महासभा हर साल सुरक्षा परिषद के पांच अस्थायी सदस्यों का दो साल के लिए चुनाव करती है. भारत इससे पहले सात बार सुरक्षा परिषद का अस्थायी सदस्य रह चुका है.