दिल्ली यूनिवर्सिटी के कॉलेजों ने स्नातक स्तर के पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए पहली कट ऑफ सूची जारी करनी शुरू कर दी है. इस क्रम में गुरुवार को उत्तरी कैंपस के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स, किरोड़ीमल कॉलेज के अलावा दक्षिणी परिसर के दयाल सिंह और रामलाल आनंद जैसे कई कॉलेजों ने यह सूची जारी की. खबरों के मुताबिक बीते साल की तुलना में इस साल की कट ऑफ सूची में 0.5 फीसदी से एक प्रतिशत तक की वृद्धि देखने को मिल सकती है.

यह बात आज आई सूचियों में देखने को मिली है. श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स पर ही नजर डालें तो वहां बीकॉम ऑनर्स पाठ्यक्रम में दाखिले के लिए 98.5 फीसदी अंक निर्धारित किए गए हैं जो बीते साल की तुलना में 0.75 प्रतिशत ज्यादा हैं. हालांकि बीए इकॉनॉमिक्स ऑनर्स के पाठ्यक्रम को लेकर इस कॉलेज के अंकों में कोई बदलाव नहीं हुआ है और वह पिछले साल की तरह 98.75 फीसदी ही है.

इसी तरह बीए इंग्लिश ऑनर्स, इकॉनॉमिक्स ऑनर्स और बीकॉम ऑनर्स जैसे कोर्सों के लिए मशहूर किरोड़ीमल कॉलेज की कट ऑफ 97 फीसदी की रही है. वहीं इकॉनॉमिक्स ऑनर्स के लिहाज से 97 फीसदी की यह कट ऑफ बीते साल के मुकाबले 0.5 प्रतिशत ज्यादा है. उत्तरी कैंपस के हंसराज कॉलेज में भी कुछ कोर्सों की कटऑफ में 0.5 फीसदी तक की वृद्धि दर्ज की गई है. हालांकि लेडी श्रीराम, गार्गी, वैंकटेश्वर, आत्मा राम सनातन धर्म जैसे कई कॉलेजों की पहली कट ऑफ अभी आनी है. ऐसे में प्रवेश के लिए अंकों की वृद्धि की सही तस्वीर कई अन्य कॉलेजों की सूची आने के बाद ही पूरी तरह स्पष्ट हो पाएगी.

इधर, कई कॉलेज ऐसे भी हैं जो 90 फीसदी अंक हासिल करने वाले छात्रों को पहली कट ऑफ में बीकॉम के विभिन्न कोर्सों में प्रवेश देने के लिए तैयार हैं. इसके अलावा यूनिवर्सिटी के कई कॉलेजों ने बीए पास और बीए ऑनर्स के लिए 72 से 79 प्रतिशत अंक तय किए हैं. साल 1922 में स्थापित और देश के प्रतिष्ठित संस्थानों में गिनी जाने वाली दिल्ली यूनिवर्सिटी की कट ऑफ के बारे और अधिक जानकारी इसकी वेबसाइट से भी ली जा सकती है.