केंद्रीय बजट से कुछ ही दिन पहले रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने कहा है कि रेलवे में जल्द ही होने वाली भर्तियों में 50 फीसदी पद महिलाओं को दिए जाएंगे. रेल मंत्री के मुताबिक रेलवे में कांस्टेबल और सब-कांस्टेबल के नौ हजार पदों पर जल्द भर्तियां होने वाली हैं.

पीटीआई के मुताबिक पीयूष गोयल ने ये जानकारी शुक्रवार को राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान दी. गोयल ने कहा कि मौजूदा समय में आरपीएफ में सिर्फ 2.25 फीसदी महिलाएं हैं. उनके मुताबिक इसे देखते हुए प्रधानमंत्री ने महिलाओं की भर्तियों का सुझाव दिया था. इसी साल जनवरी में भी पीयूष गोयल ने एक बड़ा ऐलान किया था. उन्होंने कहा था कि अगले दो साल में रेलवे कुल मिलाकर चार लाख लोगों को नौकरी देने जा रहा है.

शुक्रवार को राज्यसभा में रेल मंत्री ने राजधानी और शताब्दी जैसी रेलगाड़ियों के निजीकरण की बात को भी सिरे से खारिज कर दिया. उन्होंने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया, ‘राजधानी और शताब्दी जैसी रेलगाड़ियों का निजीकरण करने की कोई योजना नहीं बनाई गई है. रेलवे के निजीकरण की कोई योजना ही नहीं है.’

पीयूष गोयल ने इस दौरान जानकारी देते हुए यह भी कहा कि सरकार का लंबी दूरी की सभी ट्रेनों के डिब्बों में सीसीटीवी कैमरे लगाने की योजना है. प्रीमियम, मेल, एक्सप्रेस और उपनगरीय रेल गाड़ियों के सभी सवारी डिब्बों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए कदम उठाए गए हैं. पहले चरण के दौरान इन गाड़ियों के 7020 सवारी डिब्बों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे.