कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वीरप्पा मोइली ने कहा है कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के इस पद पर बने रहने की एक फीसदी की संभावना भी नहीं है. खबरों के मुताबिक उन्होंने यह बात पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘पार्टी के अध्यक्ष पद को लेकर किसी दूसरे नाम पर विचार करने से पहले कांग्रेस वर्किंग कमेटी (सीडब्ल्यूसी) राहुल गांधी से मुलाकात जरूर करेगी.’

इस बीच पार्टी के कुछ नेताओं ने राहुल गांधी की बहन और पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी को अध्यक्ष पद सौंपने की मांग की है. जब इस मुद्दे पर वीरप्पा मोइली की प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कहा, ‘इस पर कुछ कहने से पहले मैं सीडब्ल्यूसी की तरफ से कोई उचित कदम उठाए जाने की प्रतीक्षा करूंंगा.’ उन्होंने आगे कहा, ‘कांग्रेस के अध्यक्ष पद को लेकर कुछ भी हो सकता है. लेकिन सीडब्ल्यूसी जब तक उनका (राहुल गांधी) इस्तीफा मंजूर नहीं कर लेती है तब तक अटकलों और बयानों के दौर चलते रहेंगे.’

इससे पहले लोकसभा के पिछले चुनाव में कांग्रेस को मिली करारी शिकस्त की जिम्मेदारी लेते हुए राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश की थी. ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) की बीते महीने हुई एक बैठक के दौरान की गई उस पेशकश को बैठक में मौजूद दूसरे नेताओं ने तब एकमत से अस्वीकार कर दिया था. हालांकि उसके बाद से राहुल गांधी इस पद पर बने रहने के लिए सहमत नहीं हुए हैं.