‘राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष पद पर बने रहने की एक फीसदी भी संभावना नहीं है.’  

— वीरप्पा मोइली, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

वीरप्पा मोइली ने यह बात पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘पार्टी के अध्यक्ष पद को लेकर किसी दूसरे नाम पर विचार करने से पहले कांग्रेस वर्किंग कमेटी (सीडब्ल्यूसी) राहुल गांधी से मुलाकात जरूर करेगी.’ इस मौके पर जब उनसे पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाने पर प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने उसे टाल दिया. हालांकि वीरप्पा मोइली ने यह जरूर कहा, ‘अध्यक्ष पद को लेकर कुछ भी हो सकता है लेकिन जब तक सीडब्ल्यूसी राहुल गांधी का इस्तीफा मंजूर नहीं करती, अटकलों और बयानों का दौर चलता रहेगा.’

‘कश्मीर समस्या पंडित जवाहरलाल नेहरू की देन है.’  

— अमित शाह, गृह मंत्री

अमित शाह ने यह बात लोकसभा में दिए अपने संबोधन के दौरान कही. इस मौके पर सवालिया लहजे में उन्होंने यह भी कहा, ‘जम्मू-कश्मीर का एक तिहाई हिस्सा आज भारत के साथ नहीं है. इसके लिए आखिर कौन जिम्मेदार है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘देश की सेना जब इस राज्य में घुस आए कबाइलियों को खदेड़ रही थी तो उस वक्त पंडित नेहरू ने सीजफायर (युद्ध विराम) करवा दिया था.’ इसके साथ ही अमित शाह का यह भी कहना था, ‘पंडित नेहरू ने सीजफायर के उस फैसले को करने से पहले तत्कालीन गृह मंत्री सरदार पटेल को भरोसे में नहीं लिया था.’


‘क्या जम्मू-कश्मीर में आपको कब्रिस्तान जैसा सन्नाटा चाहिए?’  

— असदुद्दीन ओवैसी, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख

असदुद्दीन ओवैसी ने यह बात लोकसभा में अमित शाह पर तंज कसते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने शाह से ‘शांति की उनकी परिभाषा’ भी पूछी. फिर सवालिया लहजे में असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ‘हाल में गृह मंत्री ने जम्मू-कश्मीर का दौरा किया था. उस दौरान वहां जारी की गई ट्रैफिक एडवाइजरी के जरिये लोगों के घरों से निकलने पर रोक लगा दी गई थी. मैं जानना चाहता हूं कि घाटी में ऐसी शांति का क्या अर्थ और औचित्य है.’ इसके साथ ही उनका यह भी कहना था कि सरकार को बताना चाहिए कि बीते पांच साल में उसने कितने कश्मीरी पंडितों की घर वापसी कराई है.


‘आतंकवाद को किसी भी जरिये से मिलने वाला समर्थन बंद कराया जाना चाहिए.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात जापान के ओसाका शहर में चल रहे जी-20 सम्मेलन के दौरान ब्रिक्स नेताओं के साथ हुई एक अनौपचारिक बैठक में कही. इस मौके पर उन्होंने आतंकवाद को मानवता के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया. साथ ही कहा, ‘इससे निर्दोष लोगों की तो जानें जाती ही हैं साथ ही आर्थिक विकास और सामाजिक स्थिरता भी बड़े पैमाने पर प्रभावित होती है.’ नरेंद्र मोदी ने आगे कहा, ‘बीते दिनों आतंकवाद को लेकर मैंने वैश्विक कॉन्फ्रेंस का आह्वान किया था, क्योंकि इसके खिलाफ सामूहिक लड़ाई की आवश्यकता है.’


‘महेंद्र सिंह धोनी के पास सफल होने के लिए अनुभव और क्षमता दोनों चीजें मौजूद हैं.’  

— सौरभ गांगुली, पूर्व क्रिकेटर

सौरभ गांगुली ने यह बात एक टेलीविजन चैनल के साथ बातचीत के दौरान क्रिकेट की विश्व कप प्रतियोगिता के पिछले मैच में धोनी के प्रदर्शन को लेकर कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘महेंद्र सिंह धोनी जब बल्लेबाजी कर रहे होते हैं तो उनकी स्ट्राइक रेट पर कुछ कहना ठीक नहीं. क्योंकि गेंद को सीमा रेखा के पार पहुंचाने की उनके पास गजब की क्षमता है.’ सौरभ गांगुली का यह भी कहना था, ‘पिच पर धोनी को ऐसे साथी बल्लेबाज की जरूरत है जो उनके साथ तेजी से रन बटोर सके.’