भारतीय टीम को क्रिकेट विश्व कप 2019 में पहली बार हार का सामना करना पड़ा है. रविवार को बर्मिंघम के एजबेस्टन क्रिकेट मैदान पर खेले गए वनडे मैच में उसे मेजबान इंग्लैंड के हाथों 31 रनों से शिकस्त झेलनी पड़ी है. इंग्लैंड द्वारा दिए गए 338 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम पांच विकेट पर 306 रन ही बना सकी.

भारत की तरफ से रोहित शर्मा ने सबसे ज्यादा 102 और कप्‍तान विराट कोहली ने 66 रनों का योगदान दिया. लेकिन इन दोनों बल्‍लेबाजों के आउट होने के बाद मध्यक्रम का कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल पाया. ऋषभ पंत ने 32 और हार्दिक पंड्या ने 45 रन की तेज पारियां खेलीं, लेकिन जीत के लिहाज से उनकी ये पारियां काफी साबित नहीं हुईं. पांचवें नंबर पर आए महेंद्र सिंह धोनी 42 और केदार जाधव 12 रन बनाकर नाबाद रहे.

इंग्लैंड की तरफ से गेंदबाजी में तेज गेंदबाज लियाम प्‍लंकेट ने 55 रन देकर तीन महत्वपूर्ण विकेट झटके. इसके अलावा क्रिस वोक्स ने दो बल्लेबाजों को आउट किया. इंग्लिश गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने भी काफी किफायती गेंदबाजी की और अपने निर्धारित दस ओवरों में मात्र 45 रन दिए.

इससे पहले इस मुकाबले में इंग्लैंड ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. बल्लेबाजी के अनुकूल सपाट विकेट पर इंग्लैंड के कप्तान का फैसला सही साबित होता दिखा. इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो और जेसन राय ने तेजी से रन जोड़ने शुरु किए. भारतीय गेंदबाजों में जसप्रीत बुमराह को छोड़ कोई भी इस सलामी जोड़ी को रन बनाने से रोक नहीं पाया. विश्व कप में अच्छी गेंदबाजी कर रहे भारतीय स्पिनर्स कुलदीप यादव और चहल भी खास प्रभावी नहीं दिखे.

बेयरस्टो और जेसन राय ने 22 ओवर के खेल में 160 रन जोड़ लिए थे और ऐसा लग रहा था कि इंग्लैंड का स्कोर 400 के पार भी जा सकता है. लेकिन, 23 ओवर में कुलदीप यादव की गेंद पर अतिरिक्त खिलाड़ी रविंद्र जड़ेजा ने जेसन (66 रन) का शानदार कैच लपक इस जोड़ी को तोड़ा. लेकिन, बेयरस्टो ने रूट के साथ इंग्लैंड की पारी को संभाला. बेयरस्टो 111 (109) रन बनाकर शमी की गेंद पर आउट हुए.

इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने रन गति थामी. इंग्लैंड के कप्तान मोर्गन सिर्फ एक रन बनाकर शमी के गेंद पर आउट हुए. रूट 54 गेंदों पर 44 रन बनाकर शमी का शिकार बने. इंग्लैंड के बल्लेबाज रन बनाते रहे, लेकिन नियमित अंतराल पर विकेट गिरने के कारण इंग्लैंड की रन गति वैसी रफ्तार नहीं पकड़ पाई जैसी उसके सलामी जोड़ी के खेलते वक्त लग रहा था. बाद में बेन स्टोक्स ने कुछ बड़े शॉट खेल तेजी से रन बनाए, जिसके चलते इंग्लैंड ने सात विकेट खोकर 337 रन बना लिए. बेन स्टोक्स ने 54 गेंदों 79 रन बनाए.

भारत की ओर से सबसे सफल गेंदबाज मोहम्मद शमी रहे. उन्होंने 10 ओवर में 69 रन जरूर खर्च किए, लेकिन इंग्लैंड के पांच बल्लेबाजों को पैवेलियन भेजा. बुमराह ने हमेशा की तरह किफायती गेंदबाजी की और अंतिम ओवरों में इंग्लिश बल्लेबाजों को रन के लिए तरसा दिए. बुमराह ने 10 ओवर में 44 रन देकर एक विकेट लिया. चहल महंगे साबित हुए और बिना किसी विकेट के उन्होंने 10 ओवर में 88 रन दिए. कुलदीप यादव ने 72 रन देकर एक विकेट लिया. हार्दिक पंड्या ने 10 ओवर में 60 रन दिए, लेकिन उन्हें विकेट नहीं मिला.

इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो को उनकी शतकीय पारी के लिए मैच का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया. आज का मैच जीतकर इंग्लैंड ने सेमीफाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदें बरकरार रखी हैं. इस मैच के बाद इंग्‍लैंड के आठ मैचों में 10 अंक हो गए हैं और अंकतालिका में वह फिर चौथे स्‍थान पर पहुंच गया है. भारतीय टीम के सात मैचों में 11 अंक हैं और वह दूसरे स्‍थान पर है. पाकिस्‍तान की टीम 9 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर है.