गुजरात के नर्मदा जिले में स्थित स्टैच्यू ऑफ यूनिटी नाम से सरदार वल्लभ भाई पटेल के स्मारक की गैलरी में बारिश का पानी भर जाने का मामला सामने आया है. यह घटना पिछले महीने की है और दो दिन पहले चर्चित यूट्यूबर ध्रुव राठी ने अपने ट्विटर हैंडल से इसका एक वीडियो भी शेयर किया और इसके बाद से यह मामला सोशल मीडिया पर लगातार चर्चा में है. ध्रुव राठी ने इस वीडियो के साथ लिखा है, ‘एक बारिश से इस स्मारक की गैलरी पानी से भर गई. छत के अलावा गैलरी के सामने के हिस्से से भी इसमें बारिश का पानी आ रहा है. इतनी महंगी प्रतिमा होने के बावजूद पानी से बचाव के लिए इसके डिजाइन में ध्यान नहीं दिया गया.’

वहीं ध्रुव राठी के इस ट्वीट के बाद स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की तरफ से भी इसके जवाब में एक ट्वीट किया गया. इसके जरिये कहा गया है, ‘बारिश का पानी तेज हवा के कारण प्रतिमा की गैलरी में दाखिल हुआ है. गैलरी का ऐसा खुला डिजाइन पर्यटकों को ध्यान में रखकर किया गया है ताकि वे मनोरम दृश्यों का आनंद ले सकें.’ इसी ट्वीट से यह भी बताया गया है कि इस स्मारक का रख-रखाव करने वाली टीम पानी को निकालने का काम कर रही है.

इस घटना के ही दिन स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की तरफ से गैलरी में पानी इकट्ठा होने से पहले भी एक ट्वीट किया गया था. उसमें कहा गया था, ‘अपनी पूरी भव्यता के साथ खड़ा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी मानसून की पहली बारिश का स्वागत करता है.’ स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के इस ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ गुजरात के मुख्यमंत्री को भी टैग किया गया था.

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के नाम से देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की इस भव्य प्रतिमा का अनावरण बीते साल 31 अक्टूबर को किया गया था. 182 मीटर की ऊंचाई वाली इस प्रतिमा के निर्माण पर तीन हजार करोड़ रुपये की लागत आई है.