शुक्रवार को क्रिकेट विश्व कप प्रतियोगिता के 43वें मैच में पाकिस्तान ने बांग्लादेश पर 94 रनों के अंतर से जीत दर्ज की. लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर खेले गए इस मैच में पाकिस्तान ने बांग्लादेश के सामने जीत के लिए 316 रन का विशाल लक्ष्य रखा था, वहीं बांग्लोदश की पूरी टीम पारी के 45वें ओवर में 221 के स्कोर पर ढेर हो गई.

बांग्लादेश की तरफ से शाकिब अल हसन ने सबसे ज्यादा 64 रन बनाए. 77 गेंदों पर खेली गई इस पारी में उन्होंने छह चौके भी लगाए. वहीं लिटन दास ने 40 गेंदों पर 32 तो महमुदुल्लाह ने 41 गेंदों का सामना करते हुए 29 रन बनाए. मोसद्दिक हुसैन ने 16 तो मशरफ-ए-मुर्तजा ने 15 रनों की पारी खेली. इससे पहले बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश की शुरुआत अच्छी नहीं रही. उसके सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल सिर्फ आठ तो सौम्य सरकार 22 रन ही बना सके.

वहीं पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले बल्ला थामने का फैसला किया था. धीमी शुरुआत के बावजूद पाकिस्तान के बल्लेबाज नौ विकेट गंवाते हुए अपनी टीम का स्कोर 315 तक पहुंचाने में कामयाब रहे. इस बड़े स्कोर को खड़ा करने में इमाम उल हक के सैकड़े के अलावा बाबर आजम के 98 गेंदों पर 96 तो इमाद वसीम के तेजी से बटोरे गए 43 रनों ने अहम भूमिका निभाई.

उधर, गेंदबाजी की बात करें तो शाहीन शाह अफरीदी ने इस मुकाबले में सबसे ज्यादा छह विकेट हासिल किए. इसके लिए उन्हें मैच के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार दिया गया. वहीं शादाब खान को दो सफलताएं मिलीं तो मोहम्मद आमिर और वहाब रियाज ने एक-एक बल्लेबाज को आउट किया. दूसरी तरफ बांग्लादेश के मुस्ताफिजुर रहमान ने भी इस मैच में पाकिस्तान के पांच बल्लेबाजों को पैवेलियन भेजा. वहीं मोहम्मद सैफुद्दीन को तीन तो मेहंदी हसन मिर्जा को एक विकेट चटकाने में सफलता मिली.

क्रिकेट विश्व कप के इस मैच में पाकिस्तान ने भले ही जीत हासिल की है लेकिन रन रेट के बड़े अंतर की वजह से वह इस प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मुकाबलों में पहुंच पाने में असफल रहा है. वहीं बांग्लोदश यह मैच खेलने से पहले ही सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर हो गया था.

वहीं इस प्रतियोगिता में आज भारत और श्रीलंका के साथ ऑस्ट्रेलिया औरदक्षिण अफ्रीका के बीच मुकाबला होना है. ऑस्ट्रेलिया और भारत पहले ही सेमीफाइनल में पहुंच चुके हैं. वहीं श्रीलंका और दक्षिण अफ्रीका अगले चरण की दौड़ से बाहर हैं. ऐसे में इन दोनों मैचों की हार-जीत अगले चरण की टीमों को तो नहीं लेकिन आपसी मुकाबलों पर जरूर असर डाल सकती है. अगर भारत श्रीलंका से अपना मैच जीत जाए और दक्षिण अफ्रीका ऑस्ट्रेलिया को हरा दे तो सेमीफाइनल में भारत-न्यूजीलैंड की टक्कर होगी. वहीं भारत अगर श्रीलका पर जीत दर्ज करे और ऑस्ट्रेलिया भी अपना मैच जीत ले तो उस स्थिति में भारत को इंग्लैंड के साथ ही सेमीफाइनल में भिड़ना होगा.