2030 तक पूरी तरह इलेक्ट्रिक वाहनों पर निर्भर होेने की दिशा में केंद्र सरकार ने एक और बड़ा कदम उठाया है. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने नए बजट में इलेक्ट्रिक व्हीकल (ईवी) खरीदने वालों को आयकर में 1.5 लाख रुपए तक की अतिरिक्त छूट देने की घोषणा की है. यह छूट उन्हें ऐसे वाहनों के लिए कर्ज पर चुकाए जा रहे ब्याज में दी जाएगी. कुछ और रियायतों को मिलाकर यह छूट ढाई लाख तक जा सकती है.

बजट घोषणा के वक़्त वित्त मंत्री सीतारमण ने जीएसटी काउंसिल से इलेक्ट्रिक वाहनों पर लगने वाली एक्साइज़ ड्यूटी को 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी करने की भी सिफ़ारिश की है. जबकि सामान्य कार निर्माता कंपनियों को इस बजट में कोई राहत नहीं दी गई है. तिस पर वित्त मंत्री सीतारमण ने पेट्रोल और डीज़ल पर एक्साइज़ ड्यूटी और रोड सेस को 1 रुपए/लीटर बढ़ाए जाने की घोषणा कर बीते एक साल से जबरदस्त मंदी झेल रहे वाहन निर्माताओं की चिंता को और बढ़ा दिया है.

इससे पहले मोदी सरकार ने अपने पिछले कार्यकाल में ‘फास्टर अडॉप्शन एंड मैन्युफैक्चरिंग ऑफ इलेक्ट्रिक व्हीकल’ के दूसरे चरण यानी ‘फेम-II’ के नाम पर दस हजार करोड़ रुपए का बड़ा निवेश जारी किया था. इलेक्ट्रिक वाहनों और उनसे जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर को तेजी से विकसित करने के लिए यह स्कीम 1 अप्रैल 2019 से लागू की गई थी, जिसके तीन साल के भीतर इस राशि का इस्तेमाल किया जाना तय हुआ है. फेम का पहला चरण 2015 में शुरु किया गया था. तब इसके लिए केंद्र सरकार ने 895 करोड़ रुपए का निवेश मंजूर किया था.

ख़बरों के मुताबिक सरकार फेम-II के तहत देश में दस लाख दो-पहिया, 5 लाख तिपहिया, 55,000 चौ-पहिया और 7,000 इलेक्ट्रिक बसों की खरीद का लक्ष्य लेकर चल रही है. साथ ही इस स्कीम के तहत छोटे-बड़े शहरों के साथ पहाड़ी इलाकों में 2,700 चार्जिंग स्टेशन्स लगाए जाने की बात भी कही गई है. यदि शहरों की बात करें तो वहां 3X3 किलोमीटर की ग्रिड में और सीधे राजमार्गों पर प्रत्येक 25 किलोमीटर की जद में एक चार्जिंग स्टेशन लगाया जाना तय हुआ है. जानकारों की मानें तो ई-व्हीकल चार्जिंग के लिए भारत का पहला हाईवे कॉरिडोर 2020 तक बनाया जाएगा जिसके लिए दिल्ली-आगरा और दिल्ली जयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग को चुना गया है.

महिंद्रा एक्सयूवी-300 ऑटोमेटिक

बाज़ार में अपनी नई सबकॉम्पैक एसयूवी एक्सयूवी-300 को मिल रही जबरदस्त प्रतिक्रिया को देखते हुए महिंद्रा एंड महिंद्रा ने इस शानदार कार का ऑटोमेटेड मैनुअल वर्ज़न (एएमटी) लॉन्च कर दिया है. कंपनी ने एक्सयूवी-300 के एएमटी को कार के सिर्फ़ डब्ल्यू-8 और डब्ल्यू-8 (ओ) वेरिएंट के साथ उपलब्ध कराया है. महिंद्रा ने एक्सयूवी-300 एएमटी को तीन कलर्स - पर्ल व्हाइट, एक्वामरीन और रैड रेज में पेश किया है.

महिंद्रा ने एक्सयूवी-300 में 1.5-लीटर क्षमता का टर्बो डीज़ल इंजन लगाया है जो 115 बीएचपी की पॉवर के साथ 300 एनएम का अधिकतम टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है. कार के एएमटी वर्ज़न में हाई टेक व्हीकल कंपोनेंट निर्माता इटैलियन कंपनी मैग्नेटि मेरेली से ली गई ऑटो शिफ्ट यूनिट लगाई गई है जो कार के एक्सीलरेशन को काफी स्मूद बनाती है. कार के ऑटो वेरिएंट में मैनुअल विकल्प भी दिया गया है जिसमें गियर लीवर को लेफ्ट ले जाकर अप-डाउन टॉगल कर के गियर लगाए जा सकते हैं. सुरक्षा के लिहाज से कार में हिल स्टार्ट असिस्ट टेक्नोलॉजी दी गई है जिसकी मदद से यह कार किसी पहाड़ या ढलान पर चढ़ते समय रोल-बैक न हो सके.

एक्सयूवी-300 एएमटी के लिए महिंद्रा ने शुरुआती कीमत 11 लाख 50 हजार रुपए रखी है जो 12 लाख 70 हजार रुपए तक जाती है जो सेगमेंट की दूसरी गाड़ियों से खासी ज्यादा है. यदि दूसरी गाड़ियों पर नज़र डालें तो सेगमेंट की सरताज मारुति-सुज़ुकी ब्रेज़ा एएमटी की कीमत 8.69 और 10.42 लाख रुपए, सेगमेंट की एक अन्य लोकप्रिय कार टाटा नेक्सन एएमटी (पेट्रोल और डीज़ल) की कीमत 7.94 से 11.01 लाख रुपए और ह्युंडई की हाल ही में लॉन्च हुई कनेक्टेड सबकॉम्पैक एसयूवी वेन्यू (डीसीटी ऑटोमैटिक गियरबॉक्स) की कीमत भी 9.35 लाख रुपए से 11.10 लाख रुपए के ही बीच है. ऐसे में देखने वाली बात होगी कि महिंद्रा की यह नई पेशकश बाज़ार में अपने मौजूदा मॉडल जितना कमाल दिखा पाती है नहीं.

टाटा हैरियर का डुअल टोन वर्ज़न

टाटा मोटर्स ने अपनी लोकप्रिय एसयूवी हैरियर का डुअल टोन वर्ज़न इस हफ़्ते लॉन्च कर दिया है. अब इस कार के ऑरकस व्हाइट और कैलिस्टो कॉपर कलर्स के साथ ब्लैक रूफटॉप भी उपलब्ध करवाई गई है. इनके अलावा बाज़ार मे हैरियर के पांच एक्सटीरियर मोनो टोन कलर- एरियल सिल्वर, थर्मिस्टो गोल्ड, कैलिस्टो कॉपर, ऑरकस व्हाइट और टेलेस्टो ग्रे उपलब्ध हैं.

हैरियर के डुअल टोन वर्ज़न को सिर्फ़ इसके एक्सज़ेड वेरिएंट के साथ पेश किया है. कंपनी ने अपनी इस कार के लिए 16.76 लाख रुपए कीमत तय की है जो कि रेगुलर एक्सज़ेड मॉडल से महज 20 हजार रुपए ज्यादा है. जानकारों की मानें तो अपनी कम कीमतों के लिए पहचानी जाने वाली टाटा मोटर्स की यह नई पेशकश हाल ही में लॉन्च हुई एमजी हेक्टर के शार्प वेरिएंट को कड़ी टक्कर दे सकती है जिसकी कीमत 16.88 लाख रुपए है.

हैरियर के स्पेसिफिकेशंस की बात करें तो फिलहाल इस कार के साथ 2.0 लीटर क्षमता का क्राइयोटेक डीज़ल इंजन मिलता है. लेकिन संभावना है कि जल्द ही इस कार को बीएस-VI मानक पर खरे उतरने वाले बिल्कुल नए इंजन से लैस किया जाएगा जो कि मौजूदा मॉडल से ज्यादा दमदार होगा. जानकारी यह भी है कि एमजी हेक्टर को एक और मोर्चे पर टक्कर देने के लिए टाटा मोटर्स हैरियर के 7-सीट वर्ज़न को भी लॉन्च करने का मन बना रही है. कंपनी ने इस कार को ‘बज़र्ड’ नाम से जेनेवा मोटर शो-2019 में पेश किया था. कयास हैं कि टाटा मोटर्स अगले साल तक इस कार को बाज़ार में उतार सकती है.