नीरव मोदी के हाथों 13,000 करोड़ रुपए की चोट खा चुके पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में अब 3,800 करोड़ रुपए की एक और धोखाधड़ी का खुलासा हुआ है. पीएनबी ने शनिवार को इसकी जानकारी देते हुए कहा कि बैंक के अधिकारियों ने भूषण पॉवर एवं स्टील लिमिटेड (बीपीएसएल) की 3,800 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का पता लगाया है. बैंक ने इस बारे में आरबीआई को रिपोर्ट दे दी है.

पीटीआई के मुताबिक पीएनबी की ओर से कहा गया है कि भूषण पॉवर एंड स्टील लिमिटेड ने बैंक कर्ज में धोखाधड़ी की और बैंकों के समूह से कोष जुटाने को लेकर अपने बही-खतों में गड़बड़ की. बैंक ने शेयर बाजारों को दी गई सूचना में कहा, ‘बैंक ने फोरेंसिक ऑडिट जांच और स्वत: संज्ञान लेकर बीपीएसएल और उसके निदेशकों के खिलाफ सीबीआई की प्राथमिकी के आधार पर आरबीआई को 3,805.15 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की रिपोर्ट दी है.’

पीएनबी ने कहा, ‘कंपनी ने बैंक कोष का गबन किया और बैंकों के समूह से कोष जुटाने को लेकर अपने बही-खतों में गड़बड़ की. फिलहाल मामला एनसीएलटी (राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण) में काफी आगे बढ़ चुका है और बैंक अच्छी वसूली की उम्मीद कर रहा है.’

इससे पहले पीएनबी के साथ भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने 13,000 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की थी. यह मामला फरवरी 2018 में सामने आया. नीरव मोदी ने विदेशों में अन्य भारतीय बैंकों से कर्ज लेने को लेकर पीएनबी शाखाओं से गलत तरीके से गारंटी ऋणपत्र प्राप्त किए. इसकी सीबीआई, प्रवर्तन निदेशालय अैर अन्य एजेंसियां जांच कर रही हैं.