कर्नाटक में सियासी उथल-पुथल जारी है. आज एक निर्दलीय विधायक के इस्तीफा देने के साथ सत्ताधारी जेडीएस कांग्रेस गठबंधन के 14 विधायक उसका साथ छोड़ चुके हैं. उधर, गठबंधन सरकार में शामिल सभी 21 मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी का कहना है कि जल्द से जल्द मंत्रिमंडल का पुनर्गठन किया जाएगा. चर्चा है कि यह कवायद जेडीएस और कांग्रेस के बागी विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल करने के लिए की गई है जो इन दिनों मुंबई के एक होटल में डेरा डाले हुए हैं. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल ने इन विधायकों से जल्द वापस आने और पार्टी को मजबूत करने की अपील की है. दूसरी तरफ, मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने दावा किया है कि सरकार को कोई खतरा नहीं है.

उधर, कर्नाटक में विपक्षी भाजपा ने एचडी कुमारस्वामी से इस्तीफे की मांग की है. पार्टी नेता शोभा करंदलाजे ने कहा है कि मुख्यमंत्री को फौरन कुर्सी छोड़नी चाहिए क्योंकि उनकी सरकार अल्पमत में है. इससे पहले भाजपा राज्य में अपनी सरकार बनाने की संभावना तलाशने की बात कह चुकी है. पार्टी की कर्नाटक इकाई के प्रमुख बीएस येदियुरप्पा ने कहा है कि नए चुनाव कराने का सवाल ही नहीं है. उधर, इस पूरे मुद्दे पर थोड़ी ही देर में कांग्रेस नेताओं की दिल्ली में एक बैठक होने वाली है.