मस्जिदों में महिलाओं के प्रवेश को लेकर लगाई गई एक याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है. इस याचिका को खारिज करते हुए सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा है कि अगर इस संबंध में कोई मुस्लिम महिला अपील करती है तो कोर्ट इस पर जरूर सुनवाई करेगा. खबरों के मुताबिक के यह याचिका अखिल भारतीय हिंदू महासभा की केरल इकाई के अध्यक्ष स्वामी साई स्वरूपनाथ ने लगाई थी. इसके साथ ही उन्होंने तर्क दिया था कि जिस तरह केरल के सबरीमला मंदिर में हर आयु वर्ग की महिलाओं को प्रवेश का अधिकार है उसी तरह मस्जिदों में भी महिलाओं को प्रवेश मिलना चाहिए.

इससे पहले इस संबंध में हिंदू महासभा ने केरल हाईकोर्ट में भी एक याचिका लगाई थी. तब उस पर हाईकोर्ट की डिवीजन बेंच के चीफ जस्टिस हृषिकेश रॉय और जस्टिस एके जयशंकरन नांबियार ने इस पर सुनवाई की थी. दो जजों की इस बेंच ने इस पर बीते साल अक्टूबर में फैसला सुनाया था. साथ ही कहा था कि याचिकाकर्ता यह साबित करने में नाकाम रहा है कि मस्जिद में महिलाओं को प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है. केरल हाईकोर्ट के उसी फैसले के बाद साई स्वरूपनाथ ने सुप्रीम कोर्ट का दवाजा खटखटाया था.