राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद नए कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर जारी अटकलों के बीच पार्टी के वरिष्ठ नेता जनार्दन द्विवेदी ने मंगलवार को नए अध्यक्ष के चयन के लिए ‘अनौपचारिक’ कवायद की विश्वसनीयता को लेकर सवाल उठाए और कहा कि राहुल गांधी को पद छोड़ने से पहले नए पार्टी प्रमुख के चयन को लेकर एक व्यवस्था बनानी चाहिए थी.

जनार्दन द्विवेदी ने संवाददाताओं से बातचीत में यह सवाल भी किया कि कांग्रेस के नए अध्यक्ष को लेकर पार्टी के भीतर जो ‘बैठकें’ चल रही हैं, उनके लिए किसने अधिकृत किया है? नए अध्यक्ष के लिए नामों के उछलने को अनुचित करार देते हुए जनार्दन द्विवेदी ने कहा कि पांच साल पहले जब नयी पीढ़ी को महत्व देने की बात आई थी तो उन्होंने इसका समर्थन किया था.

इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कर्ण सिंह ने सोमवार को कहा था कि जल्द से जल्द कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक बुलाकर निर्णय किए जाएं तथा हो सके तो यह बैठक पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अगुवाई में बुलाई जाए. ऱाहुल गांधी ने पिछले दिनों अपने इस्तीफे की औपचारिक घोषणा की और नए अध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया से खुद को अलग कर लिया. इसके बाद से अब तक सीडब्ल्यूसी की बैठक को लेकर कोई फैसला नहीं हो पाया है.