अमेरिका से आने वाली वस्तुओं पर भारत की तरफ से लगाए जाने वाले आयात शुल्क को लेकर वहां के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर निशाना साधा है. एक ट्वीट के जरिये डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है, ‘अमेरिकी उत्पादों पर टैरिफ लगाकर भारत लंबे समय से लाभ लेता आया है. लेकिन अब यह स्वीकार्य नहीं है.’

वैसे यह पहला मौका नहीं है जब इस मुद्दे पर अमेरिकी राष्ट्रपति ने नाराजगी जाहिर की है. इससे पहले बीते महीने जापान के ओसाका में आयोजित जी-20 सम्मेलन के दौरान डोनाल्ड ट्रंप की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आपसी मुलाकात हुई थी. उसी सम्मेलन के दौरान हुई एक अलग बैठक में ट्रंप ने नरेंद्र मोदी के सामने आयात शुल्क का मुद्दा उठाया था. तब दोनों नेताओं ने इस मसले पर विस्तार से बातचीत की थी. साथ ही इस चर्चा को अपने-अपने प्रतिनिधियों के जरिये आगे बढ़ाने पर भी रजामंदी जताई थी.

वहीं उस मुलाकात से पहले भी ट्रंप ने एक ट्वीट किया था. उस ट्वीट से उन्होंने कहा था कि हाल ही में टैरिफ (आयात शुल्क) में भारत ने और वृद्धि की है. यह स्वीकार करने योग्य नहीं है. उसी ट्वीट से उन्होंने इस शुल्क को वापस लेने की मांग भी की थी.

तब भारत द्वारा अमेरिकी उत्पादों पर जवाबी कार्रवाई के तौर पर आयात शुल्क में बढ़ोतरी की गई थी क्योंकि इससे पहले अमेरिका ने भारत को विशेष तरजीह वाले देशों की सूची से बाहर ​कर दिया था. इसके बाद भारत ने अमेरिका से आयात होने वाले 28 उत्पादों पर शुल्क में इजाफा किया था.