‘गांधी जयंती के मौके पर भाजपा के सभी सांसद पदयात्रा करेंगे.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की संसदीय दल की एक बैठक के दौरान दिए अपने संबोधन में कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘यह पदयात्रा दो अक्टूबर को गांधी जयंती के मौके से शुरू होकर 31 अक्टूबर तक सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती तक चलेगी. राज्यसभा सांसदों, पार्टी विधायकों और नेताओं के अलावा इसमें कार्यकर्ताओं को भी शामिल किया जाएगा.’ इसके साथ ही नरेंद्र मोदी का यह भी कहना था, ‘इस पदयात्रा में महात्मा गांधी की शिक्षा और विचारों का प्रचार-प्रसार किया जाएगा. साथ ही हर बूथ पर वृक्षारोपण का कार्यक्रम भी होगा.’

‘मेरी जान को भी खतरा है, मुझे यह जानकारी मीडिया के जरिये मिली.’   

— अन्ना हजारे, सामाजिक कार्यकर्ता

अन्ना हजारे ने यह बात केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की एक विशेष अदालत के समक्ष पवन राजे निंबालकर की हत्या के मामले में दर्ज कराये गए अपने बयान में कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘इसकी शिकायत दर्ज कराने से पहले मैंने यह मुद्दा प्रधानमंत्री और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के सामने उठाया था. लेकिन जब वहां से कोई कार्रवाई नहीं हुई तो मैंने पद्मश्री और वृक्ष मित्र सम्मान लौटाने के बाद अनशन किया. तब सरकार ने इस मामले की जांच के लिए एक आयोग गठित किया था.’ अन्ना हजारे का यह भी कहना था, ‘पवन राजे निंबालकर की हत्या के आरोपित पदम सिंह पाटिल ने भी मुझे एक मामले में गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी.’


‘भारत का अमेरिकी उत्पादों पर ज्यादा शुल्क लगाना अब और बर्दाश्त नहीं किया जा सकता.’  

— डोनाल्ड ट्रंप, अमेरिका के राष्ट्रपति

डोनाल्ड ट्रंप ने यह बात एक ट्वीट के जरिये कही. ‘इसी ट्वीट से उनका यह भी कहना था, ‘अमेरिकी उत्पादों पर टैरिफ लगाकर भारत लंबे समय से लाभ लेता आया है.’ वैसे यह पहला मौका नहीं था जब डोनाल्ड ट्रंप ने ज्यादा टैरिफ (आयात शुल्क) को लेकर आपत्ति जताई है.


‘राहुल गांधी को कांग्रेस के नए अध्यक्ष के लिए कोई व्यवस्था बनानी चाहिए थी.’  

— जनार्दन द्विवेदी, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

जनार्दन द्विवेदी ने यह बात पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कही. इस मौके पर सवालिया लहजे में उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस के नए अध्यक्ष को लेकर पार्टी के भीतर जो बैठकें चल रही हैं, उनके लिए किसने अधिकृत किया है.’ इसके साथ ही पार्टी के नए अध्यक्ष के नामों को उछाले जाने को भी उन्होंने अनुचित करार दिया. जनार्दन द्विवेदी ने आगे कहा, ‘पांच साल पहले जब पार्टी में नयी पीढ़ी को महत्व दिए जाने की बात आई तो उस वक्त मैंने इस बात का समर्थन किया था.’


‘सर्जिकल स्ट्राइक के बाद सीमा पार से होने वाली घुसपैठ में 43 फीसदी की कमी आई है.’  

— नित्यानंद राय, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री

नित्यानंद राय ने यह बात लोकसभा में एक लिखित सवाल का जवाब देते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘इस सुधार में सुरक्षा बलों के ठोस और समन्वित प्रयासों की भी अहम भूमिका रही है.’ इसके साथ ही उनका यह भी कहना था, ‘जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ को लेकर सरकार जीरो टॉलरेंस की नीति अपना रही है. साथ ही इस दिशा में वहां बहुआयामी निगरानी प्रणाली की तैनाती भी की गई है.’