अमेरिका में ब्रिटेन के राजदूत किम डैरेक ने लीक हुए ई-मेल को लेकर चल रहे कूटनीतिक विवाद के बीच बुधवार को इस्तीफा दे दिया. किम डोराक ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके प्रशासन को ‘अयोग्य’ और ‘बेकार’ बताया था. रविवार को समाचार पत्र ‘मेल’ ने इस संबंध में खबर प्रकाशित की थी, जिसके बाद इस मसले पर बयानबाजी का दौर जारी है.

किम डैरेक ने कहा कि वह अटकलों पर विराम लगाना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘मौजूदा स्थिति मेरे लिए अपनी वैसी भूमिका निभाना असंभव बना रही है जैसी मैं चाहता हूं.’ ब्रिटेन के विदेश कार्यालय ने डैरेक के इस्तीफे की पुष्टि की है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस विवाद के बाद कहा था कि वह ब्रिटिश राजदूत से कोई वास्ता नहीं रखेंगे. डोराक ब्रिटेन के सबसे अनुभवी राजदूतों में से एक हैं, जिन्हें ट्रंप के राष्ट्रपति चुनाव जीतने से कुछ समय पहले ही जनवरी 2016 में वॉशिंगटन में तैनात किया गया था.