‘45 मिनट के खराब खेल ने हमें विश्व कप प्रतियोगिता से बाहर कर दिया.’  

— विराट कोहली, भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान

विराट कोहली ने यह बात क्रिकेट विश्व कप के पहले सेमीफाइनल के बाद ‘प्रेजेंटेशन सेरेमनी’ के दौरान पूछे गए एक सवाल के जवाब में कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘हमने शुरुआती विकेट जल्दी-जल्दी गंवाए. साथ ही हमारे बल्लेबाज सही शॉट का चयन भी नहीं कर सके.’ इसी मौके पर विराट कोहली ने यह भी कहा, ‘भारत इस प्रतियोगिता की अंकतालिका में शीर्ष पर रहा. लेकिन सेमीफाइनल के नॉकआउट मैच में न्यूजीलैंड का प्रदर्शन बेहतर रहा इसीलिए यह टीम जीत की हकदार बनी.’

‘बजट में बताया गया हर आंकड़ा सही और विश्वसनीय है.’  

— निर्मला सीतारमण, केंद्रीय वित्त मंत्री

निर्मला सीतारमण ने यह बात संसद में बजट प्रस्तावों पर चर्चा के बाद सवालों का जवाब देते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘आर्थिक सर्वे और बजट में पेश सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर के आंकड़ों पर सवाल उठे हैं. इन आंकड़ों में फर्क इसलिए दिखा क्योंकि 2019 के अंतरिम बजट में संदर्भ के तौर पर जीडीपी आधार कम लिया गया था.’ उन्होंने आगे कहा, ‘सदन के सदस्य चाहें तो अनुमानित अनुपात की तुलना कर सकते हैं.’ इसके साथ ही निर्मला सीतारमण ने 2024-25 तक देश की अर्थव्यवस्था को पांच ट्रिलियन डॉलर तक ले जाने को लेकर प्रतिबद्धता जताई. साथ ही कहा इसके लिए निवेश को बढ़ाया दिया जाएगा.


‘जीत और हार जीवन का हिस्सा है.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात क्रिकेट विश्व कप के सेमीफाइनल मैच में भारतीय टीम की हार को लेकर एक ट्वीट के जरिये कही. इसी ट्वीट से उन्होंने इस मैच के नतीजे को ‘निराशाजनक’ बताया. साथ ही कहा, ‘भारत ने पूरे टूर्नामेंट के दौरान काफी अच्छी बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण किया जिस पर हमें काफी गर्व है.’ इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने टीम को भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दीं.


‘मैं अमेठी आकर खुश हूं, यहां आना घर आने जैसा लगता है.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस के नेता

राहुल गांधी ने यह बात अमेठी में एक संबोधन के दौरान कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘अमेठी के साथ मेरे व्यक्तिगत संबंध रहे हैं. मैं यह संसदीय क्षेत्र कभी नहीं छोड़ सकता.’ इसके साथ ही राहुल गांधी का यह भी कहना था, ‘मुझे वायनाड को भी वक्त देना है. लेकिन यहां के लोगों को जब भी मेरी जरूरत होगी मैं यहां मौजूद रहूंगा. इसके अलावा मैं खुद भी यहां का दौरा करता रहूंगा.’


‘एचडी कुमारस्वामी को कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए.’  

— बीएस येद्दियुरप्पा, भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता

बीएस येद्दियुरप्पा ने यह बात कांग्रेस और जनता दल सेक्यूलर (जेडीएस) के विधायकों के इस्तीफे के मद्देनजर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘एचडी कुमारस्वामी को ऐसा करके राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की अगुवाई वाली सरकार का रास्ता साफ करना चाहिए.’ इसके साथ ही बीएस येद्दियुरप्पा का यह भी कहना था, ‘आगामी 12 जुलाई से कर्नाटक विधानसभा का सत्र शुरू होने जा रहा है लेकिन सरकार के पास विधायकों का पर्याप्त संख्याबल नहीं है. ऐसे में विधानसभा का आगामी सत्र कानून सम्मत नहीं होगा.’