विश्व कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से मिली हार के बाद भले ही महेंद्र सिंह धोनी के क्रिकेट को अलविदा कहने की अटकलें लगाई जा रही हों लेकिन सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर ने उनसे ऐसा नहीं करने की अपील की है. अपने क्रिकेट प्रेम के लिये मशहूर लता मंगेशकर ने ट्विटर पर लिखा कि देश को महेंद्र सिंह धोनी की जरूरत है.

लता मंगेशकर ने इस ट्वीट में लिखा है, ‘नमस्कार धोनी जी. आज कल मैं सुन रही हूं कि आप रिटायर होना चाहते हैं. कृपया आप ऐसा मत सोचिए. देश को आप के खेल की जरूरत है और ये मेरा भी अनुरोध है कि रिटायरमेंट का विचार भी आप मन में मत लाइये.’ उन्होंने भारतीय टीम का समर्थन करते हुए यह भी कहा है,‘ खेल भले ही हम जीत नहीं पाये लेकिन हम हारे नहीं हैं.’ उन्होंने गुलजार का लिखा गीत ‘आकाश के उस पार भी आकाश है ’ भारतीय टीम को समर्पित किया.

लता मंगेशकर का क्रिकेट प्रेम किसी से छिपा नहीं है. कपिल देव की कप्तानी में भारतीय टीम जब 1983 में विश्व कप जीती थी तब उन्होंने टीम के लिये एक कॉन्सर्ट का आयोजन किया था . चैम्पियन बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर उन्हें मां समान मानते हैं और वे भी रिश्ता इतनी ही शिद्दत से निभाती आई हैं. विश्व कप 2011 के मैन आफ द टूर्नामेंट युवराज सिंह को कैंसर से उबरकर वापसी करने पर उन्होंने बधाई दी थी. विश्व कप 2011 में वानखेड़े स्टेडियम पर फाइनल में भारत को छक्का लगाकर जीत दिलाने वाले धोनी के बारे में उन्होंने लिखा था, ‘अनहोनी को होनी कर दे, होनी को अनहोनी, रजनी, गजनी और धोनी.’ दिलचस्प बात है कि उस मैच को देखने के लिये ‘गजनी’ फेम आमिर खान, सुपरस्टार रजनीकांत भी दर्शक दीर्घा में मौजूद थे.