सोमालिया में हुए एक आतंकी हमले में 26 लोगों की मौत हो गई है. पीटीआई के मुताबिक यह हमला देश के बंदरगाह शहर किसमायो स्थित एक होटल पर हुआ. सूत्रों ने बताया कि एक आत्मघाती हमलावर ने शहर के लोकप्रिय मेदिना होटल में विस्फोटकों से भरा वाहन घुसा दिया जिसके बाद भारी हथियारों से लैस कई बंदूकधारी गोलीबारी करते हुए होटल में घुस गए. मरने वालों में दो पत्रकार भी शामिल हैं. मोगादिशु स्थित रेडियो स्टेशन ‘रेडियो दालसान’ ने पुष्टि की कि इस हमले में कनाडा की पत्रकार हुदान नलायेह और उनके पति फरीद जमा सुलेमान की मौत हो गई है.

स्थानीय जिला अधिकारी अब्दी अहमद ने ‘एसोसिएटेड प्रेस’ को बताया कि होटल में बंदूकधारियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ अब भी जारी है. उनका यह भी कहना था कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है. अधिकारियों के मुताबिक हमले की जद में आए अधिकतर लोग होटल में आए मेहमान थे. इस होटल में अकसर नेता और स्थानीय अधिकारी आते हैं. सोमालिया के आतंकवादी संगठन अल शबाब ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है.

अल-कायदा से संबंध रखने वाले अल-शबाब को दक्षिण और मध्य सोमालिया के सभी शहरों से खदेड़ा जा चुका है. अगस्त 2011 में उसे राजधानी मोगादिशू से पूरी तरह खदेड़ दिया गया था और सितंबर 2012 में उसे किसमायो भी छोड़ना पड़ा. पर ग्रामीण इलाकों में उसका प्रभाव अभी भी कायम है. शहरों से खदेड़े जाने के बाद इस संगठन का जोर अब छापामार लड़ाई पर है.