हिमाचल प्रदेश में एक चार मंजिला इमारत गिरने से 13 सैन्यकर्मियों सहित कम से कम सात लोगों की मौत हो गई. पीटीआई के मुताबिक यह हादसा राज्य के सोलन जिले में हुआ. पुलिस ने सोमवार को बताया कि यह इमारत रविवार शाम की भारी बारिश के बाद ढह गई. सोलन के पुलिस अधीक्षक मधुसूदन शर्मा ने बताया कि मलबे से अब तक सेना के 13 जवानों और एक नागरिक का शव बरामद हुआ है.

एक घायल सैनिक ने संवाददाताओं को बताया कि यह इमारत जब गिरी उस दौरान यहां सेना के 35 कर्मी मौजूद थे जिनमें से 30 जूनियर कमीशंड अधिकारी (जेसीओ) और पांच सैनिक थे. उसके मुताबिक चार असम रेजिमेंट से ताल्लुक रखने वाले ये लोग इमारत में मौजूद रेस्त्रां में गए थे. इसी दौरान अचानक से इमारत हिली और तुरंत ही गिर गई. वहीं एक अन्य घायल सैनिक राकेश कुमार ने बताया, ‘हमने सोचा कि भूकंप आया है और हमें नहीं याद कि यह इमारत कैसे गिर गई और हम मलबे के अंदर दब गए. मैं करीब 10-15 तक फंसा रहा जिसके बाद कुछ लोगों ने मुझे बचाया.’

शुरुआत में भारतीय सेना, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और पुलिस ने संयुक्त रूप से बचाव अभियान की शुरुआत की. इसके बाद राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की दो टीमों को काम पर लगाया गया. उधर, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने घटना पर दुख जताते हुए हादसे की जांच के आदेश दिए हैं.