भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता कलराज मिश्र को हिमाचल प्रदेश का नया राज्यपाल बनाया गया है. फिलहाल यह जिम्मेदारी आचार्य देवव्रत संभाल रहे थे. वहीं अब उन्हें गुजरात के राज्यपाल का पदभार सौंपा गया है. गुजरात में आचार्य देवव्रत वहां के राज्यपाल ओपी कोहली की जगह लेंगे. उनका कार्यकाल सोमवार को ही समाप्त हो रहा है. खबरों के मुताबिक इन दोनों प्रदेशों के नए राज्यपालों की नियुक्ति को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की तरफ से आदेश जारी कर दिया गया है. साथ ही इन दोनों के ही अपने-अपने पदों को संभालते ही इनकी नियुक्तियां प्रभावी हो जाएंगी.

आचार्य देवव्रत कुरुक्षेत्र गुरुकुल के प्राचार्य रह चुके हैं. इस संस्थान को आर्य प्रतिनिधि सभा बगैर किसी सरकारी सहायता के संचालित करती है. इसके अलावा ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान में भी आचार्य देवव्रत का योगदान रहा है.

वहीं तीन बार राज्यसभा के सांसद रहे कलराज मिश्र 2014 में उत्तर प्रदेश की देवरिया संसदीय सीट से निर्वाचित हुए थे. नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली पिछली सरकार में उन्हें सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई थी. हालांकि 2017 में उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. साथ ही उन्होंने बीती मई में संपन्न लोकसभा का चुनाव भी नहीं लड़ा था.