कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल का न्यूज चैनल ‘तिरंगा टीवी’ बंद हो गया है. पिछले दिनों खबरें आई थीं कि इस चैनल की हालत खराब चल रही है. इस दौरान यहां छंटनी भी हुई थी और कुछ पत्रकारों और दूसरे स्टाफ को नौकरी गंवानी पड़ी थी. वहीं आज मीडिया में आई खबरों के मुताबिक मंगलवार से ‘तिरंगा टीवी’ कई केबल और डिश टीवी प्लेटफॉर्म से गायब हो चुका है.

बताया यह भी जा रहा है कि इस चैनल के पत्रकारों और स्टाफ को इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया जा रहा है और उन्हें मुआवजे के तौर पर सिर्फ एक महीने की तनख्वाह दी जा रही है. ‘तिरंगा टीवी’ में फिलहाल 200 से ज्यादा पत्रकार और स्टाफ के अन्य सदस्य काम कर रहे हैं. इनमें से कइयों की पिछले महीनों की तनख्वाहें भी बकाया है.

इस चैनल से बरखा दत्त, करण थापर और मनीष छिब्बर जैसे वरिष्ठ पत्रकार भी जुड़े हुए थे. बरखा दत्त ने भी ‘तिरंगा टीवी’ में मची इस उठा-पटक को लेकर एक के बाद एक कई ट्वीट किए हैं और इनमें कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी प्रोमिला को निशाना बनाया है. एक ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘मुझे बताया गया है कि कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी मोदी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) का बहाना बनाकर कर्मचारियों को निकालना चाहते हैं. उनका कहना है कि मोदी ने चैनल को चलने नहीं दिया. लेकिन बेलाग-लपेट कहूं तो सरकार का इससे कोई लेना-देना नहीं है. इन दोनों, पति और पत्नी ने स्टाफ से कोई बात नहीं की, चैनल बंद किया और छुट्टियां मनाने लंदन चले गए और इसने मुझे मजबूर किया कि मैं उन्हें (कपिल सिब्बल) माल्या (विजय माल्या) कहूं.’

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘सबसे ज्यादा शर्मनाक बात ये है कि कपिल सिब्बल हर दिन करोड़ों रुपये कमाते हैं लेकिन अपने 200 कर्मचारियों को नियमों के मुताबिक छह महीने या कम से कम तीन महीने की तनख्वाह नहीं दे रहे... वे 200 से ज्यादा लोगों की जिंदगी तबाह कर रहे हैं.’

बताया जा रहा है कि पहले यहां के कर्मचारियों को चैनल बंद होने के चलते छह महीने की तनख्वाह बतौर मुआवजा देने का फैसला किया गया था लेकिन सिब्बल की पत्नी प्रोमिला ने इसे बदलवा दिया. इसी बात का जिक्र करते हुए बरखा दत्त ने एक और ट्वीट में लिखा है, ‘कपिल सिब्बल की पत्नी जो कभी मीट फैक्टरी चलाती थीं, चैनल में जोर से कहा करती थीं, ‘मैंने मजदूरों को एक भी पैसा दिए फैक्टरी बंद कर दी. ये पत्रकार होते कौन हैं जो छह महीने की सैलरी मांग रहे हैं...’

‘तिरंगा टीवी’ के कर्मचारी इस मामले में कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी के ऊपर कानूनी कार्रवाई करने का विचार कर रहे हैं. वहीं बरखा दत्त ने भी संपादकों के संगठन एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया से इस मामले में दखल देने की अपील की है.