‘मोदी सरकार एनआईए कानून का गलत इस्तेमाल नहीं करेगी.’  

— अमित शाह, गृह मंत्री

अमित शाह ने यह बात लोकसभा में ‘राष्ट्रीय अन्वेषण अधिकरण (एनआईए) संशोधन विधेयक- 2019’ पर चर्चा के दौरान कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘इस कानून का इस्तेमाल आतंकवाद की रोकथाम के लिए किया जाएगा. साथ ही इसमें यह नहीं देखा जाएगा कि संबंधित अपराध को किस धर्म के व्यक्ति ने अंजाम दिया है.’ अमित शाह ने आगे कहा, ‘इस संशोधन विधेयक का सभी दलों का समर्थन करना चाहिए. क्योंकि आतंक के खिलाफ लड़ने वाली एजेंसी को ज्यादा ताकतवर बनाने वाले कानून पर सदन के एकमत न होने से आतंकवाद फैलाने वालों का मनोबल बढ़ेगा.’

‘हिंदी की वजह से संसद में बहस का स्तर गिरा है.’  

— वाइको, एमडीएमके के महासचिव

वाइको ने यह बात एक बातचीत में कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘हिंदी में भला कौन सा साहित्य है? इसकी कोई जड़ नहीं और संस्कृत भी मृतप्राय भाषा ही बन चुकी है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘पहले विभिन्न विषयों की जानकारी रखने वाले लोग संसद पहुंचते थे. लेकिन अब तो वहां मौजूद सदस्य हिंदी में चिल्लाते रहते हैं. यहां त​क कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सदन को हिंदी में ही संबोधित करते हैं.’ इस मौके पर वाइको ने पूर्व प्रधानमंत्री पंडित नेहरू के साथ नरेंद्र मोदी की तुलना भी की. साथ ही कहा, ‘नेहरू पहाड़ जैसे थे जबकि मोदी उनका एक तिनका भर हैं.’


‘अमित शाह गृह मंत्री हैं, भगवान नहीं.’ 

— असदुद्दीन ओवैसी, एमआईएम के प्रमुख

असदुद्दीन ओवैसी ने यह बात लोकसभा की एक घटना को लेकर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘जो लोग भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के फैसलों का समर्थन नहीं करते उन्हें देशद्रोही की संज्ञा दे दी जाती है.’ इसके साथ ही सवालिया लहजे में उन्होंने यह भी कहा, ‘क्या इन लोगों ने राष्ट्रवाद और राष्ट्रद्रोह की दुकान खोल ली है.’ इससे पहले सोमवार को असदुद्दीन ओवैसी और अमित शाह के बीच एनआईए संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान नोक-झोंक हुई थी. तब शाह ने ओवैसी को दूसरे सांसदों की बातें शांति से सुनने की नसीहत दी थी.


‘अगर नवजोत सिंह सिद्धू अपना काम नहीं करना चाहते तो मैं कुछ नहीं कर सकता.’ 

— अमरिंदर सिंह, पंजाब के मुख्यमंत्री

अमरिंदर सिंह ने यह बात पंजाब कैबिनेट से नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे पर पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘अगर वे बिजली विभाग नहीं चाहते थे तो उन्हें मुझ से बात करनी चाहिए थी. भविष्य में उनका विभाग बदलने पर विचार हो सकता था. लेकिन सबसे पहले उन्हें अपनी नई जिम्मेदारी संभालनी चाहिए थी.’ इसके साथ ही अमरिंदर सिंह ने यह भी कहा, ‘उनका इस्तीफा पंजाब सरकार के लिए कोई परेशानी की बात नहीं लेकिन उन्हें संगठन के अनुशासन का ख्याल रखना चाहिए था.’


‘मैं केन विलियम्सन से जीवनभर माफी मांगता रहूंगा.’ 

— बेन स्टोक्स, इंग्लैंड के बल्लेबाज

बेन स्टोक्स ने यह बात क्रिकेट विश्व कप प्रतियोगिता के फाइनल मैच के आखिरी ओवर में मिले अतिरिक्त रनों को लेकर कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘मैंने मैदान पर भी उस घटना के लिए केन विलियम्सन से माफी मांगी थी और उनसे कहा था कि मैंने ऐसा जान-बूझकर नहीं किया.’ इसके साथ ही बेन स्टोक्स ने विलियम्सन को एक शानदार खिलाड़ी बताते हुए आगे कहा, ‘मैंने उनके साथ काफी वक्त बिताया है.’