प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद सत्र के दौरान सदन में अपने मंत्रियों की गैरहाजिरी पर नाराजगी जताई है. सूत्रों के हवाले से चल रही खबरों के मुताबिक आज भाजपा के संसदीय दल के साथ हुई साप्ताहिक बैठक में उन्होंने आज शाम तक ऐसे मंत्रियों की सूची मांगी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी को कहा कि वे उन्हें आज शाम तक ऐसे सांसदों की सूची सौंपें जो जो रोस्टर में नाम होने के बावजूद संसद से अनुपस्थित हैं.

इससे पहले भी इसी महीने हुई एक बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद न आने वाले सांसदों को फटकार लगाई थी. आज की बैठक में मौजूद रहे लोगों के मुताबिक प्रधानमंत्री ने भाजपा सांसदों से कहा कि वे राजनीति से आगे जाकर काम करें. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जल संकट के मुद्दे पर खास जोर दिया. उन्होंने सांसदों से यह भी कहा कि वे अपने निर्वाचन क्षेत्र के अधिकारियों के साथ बैठें और जनता के मुद्दों पर विचार करें. सूत्रों के मुताबिक उनका कहना था, ‘सांसदों को अपने इलाकों में कुछ हटकर काम करने चाहिए.’ उन्होंने सांसदों को मिशन मोड में काम करने की नसीहत भी दी. इससे पहले भी प्रधानमंत्री पार्टी सांसदों को सेवाभाव से काम करने को कह चुके हैं.