उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में बुधवार को जमीन का एक विवाद खूनी संघर्ष में तब्दील हो गया. खबरों के मुताबिक जिले के घोरवाल थाना क्षेत्र में हुए इस संघर्ष में तीन महिलाओं सहित नौ लोगों की मौत हो गई. वहीं इस संघर्ष में 19 लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं. घायलों को फिलहाल जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इस दौरान स्थानीय पुलिस ने कहा है कि मामले में अब तक दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. साथ ही दूसरे आरोपितों की धर-पकड़ के लिए घर-घर की तलाशी ली जा रही है.

वहीं इस मामले की जानकारी देते हुए उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि पास के ही एक गांव के प्रधान यज्ञ दत्त ने कुछ समय पहले एक आईएएस अधिकारी से 90 बीघा जमीन खरीदी थी. बुधवार को यज्ञ दत्त जमीन का कब्जा लेने के लिए मौके पर पहुंचे थे. लेकिन वहां कुछ स्थानीय लोगों ने इस पर विरोध जताया जिसके बाद दोनों पक्षों के बीच टकराव हो गया. इस दौरान यज्ञ दत्त के समर्थकों ने दूसरे पक्ष पर देसी कट्टों से गोलियां चलानी शुरू कर दी ​थीं. इसके बाद दोनों पक्षों ने धारदार हथियारों से एक-दूसरे पर हमला कर दिया.

इस बीच सोनभद्र के एसडीएम और पुलिस सुपरिंटेंडेंट ने मौके का मुआयना किया है. वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना का संज्ञान लेते हुए मृतकों के परिवारो के साथ संवेदना जताई है. इसके साथ ही उन्होंने घटना के घायलों को तत्काल चिकित्सा सहायता मुहैया कराने के निर्देश भी दिए हैं. इधर, कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने एक ट्वीट के जरिये इस घटना को ‘दिल दहला देने वाला’ बताया है. साथ ही इसी ट्वीट से सवालिया लहजे में यह भी कहा है कि क्या उत्तर प्रदेश इसी तरह ‘अपराध मुक्त प्रदेश’बनेगा. वहीं प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मृतकों के परिवारो के लिए 20-20 लाख रुपये के मुआवजे के साथ दोषियों को कड़ी सजा दिए जाने की मांग की है.