‘कुलभूषण जाधव को लेकर दिया गया आईसीजे का फैसला सच्चाई और न्याय की जीत है.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात एक ट्वीट के जरिये अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) के कुलभूषण जाधव के मामले पर आए फैसले को स्वागतयोग्य बताते हुए कही. इसी ट्वीट से उन्होंने यह भी कहा, ‘मुझे पूरा भरोसा है कि कुलभूषण जाधव को न्याय मिलेगा.’ इसके साथ ही नरेंद्र मोदी का यह भी कहना था, ‘हमारी सरकार हमेशा हर भारतीय की सुरक्षा और भलाई के लिए काम करेगी.’

‘देश की इंच-इंच जमीन से अवैध प्रवासियों की पहचान करके उन्हें निर्वासित किया जाएगा.’  

— अमित शाह, गृह मंत्री

अमित शाह ने यह बात राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर पूछे गए एक पूरक प्रश्न का जवाब देते हुए राज्यसभा में कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘यह काम अंतरराष्ट्रीय कानून के मुताबिक किया जाएगा.’ इस मौके पर अमित शाह का यह भी कहना था, ‘सत्ताधारी पार्टी जिस चुनावी घोषणा पत्र के आधार पर चुनकर आई है उसमें भी इस बात का जिक्र किया गया है.’


‘कर्नाटक संकट पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला बेहद खराब न्यायिक मिसाल है.’  

— रणदीप सिंह सुरजेवाला, कांग्रेस के प्रवक्ता

रणदीप सिंह सुरजेवाला ने यह बात एक ट्वीट के जरिये कही. इसी ट्वीट से उन्होंने यह भी कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट ने अपने इस फैसले से व्हिप को अमान्य करार देते हुए उन विधायकों को संरक्षण दे दिया जिन्होंने जनादेश के साथ विश्वासघात किया है.’ इसके साथ ही रणदीप सिंह सुरजेवाला ने इस फैसले को ‘निराशाजनक’ कहते हुए राज्य विधानसभा के कामकाज में शीर्ष अदालत द्वारा ‘हस्तक्षेप’ करने वाला भी बताया.


‘भारत और चीन सीमा पर शांति के लिए समझौतों का सम्मान कर रहे हैं.’  

— राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री

राजनाथ सिंह ने यह बात लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी द्वारा पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘2017 में भारत और चीन की सेनाओं के बीच डोकलाम में कई दिनों तक गतिरोध देखने को मिला था. लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग के बीच वुहान में हुई अनौपचारिक बैठक के बाद से स्थितियां बेहतर बनी हैं.’ इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘दोनों देशों के सशस्त्र बल सीमा पर संयम बरत रहे हैं.’


‘बेन स्टोक्स ने अंपायर से ओवरथ्रो के रन इंग्लैंड के स्कोर में नहीं जोड़ने को कहा था.’  

— जेम्स एंडरसन, इंग्लैंड की क्रिकेट टीम के सदस्य

जेम्स एंडरसन ने यह बात एक बातचीत के दौरान कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘उस मैच में जब बेन स्टोक्स के बल्ले से गेंद टकराकर बाउंड्री के पार हो गई थी तो उस वक्त भी स्टोक्स ने फौरन हाथ उठाकर माफी मांगी थी. फिर उन्होंने अंपायरों के पास जाकर उनसे कहा था कि उन्हें वे रन नहीं चाहिए.’ इसके साथ ही जेम्स एंडरसन का यह भी कहना था, ‘नियमों के अनुसार वह चौका था, इसमें आप कुछ नहीं कर सकते थे.’