मुंबई हमलों के साजिशकर्ता हाफिज सईद की पाकिस्तान में हुई गिरफ्तारी को भारत ने नौटंकी करार दिया है. सईद की गिरफ्तारी के एक दिन बाद भारत ने कहा कि पाकिस्तान की सरकार 2001 से कम से कम आठ बार यह नौटंकी कर चुकी है और इस कार्रवाई की असलियत इस बात पर निर्भर करेगी कि उस पर आतंकी गतिविधियों के लिए मुकदमा चलता है या नहीं.

पीटीआई के मुताबिक भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने गुरूवार को साप्ताहिक मीडिया ब्रीफिंग में कहा, ‘हाफिज सईद को पहली बार गिरफ्तार नहीं किया गया है या हिरासत में नहीं लिया गया है. 2001 से यह नाटक कम से कम आठ बार हो चुका है. सवाल यह है कि क्या इस बार यह दिखावे की कवायद से कुछ ज्यादा होगी और क्या सईद पर मुकदमा चलेगा और उसे आतंकी गतिविधियों के लिए सजा सुनाई जाएगी.’

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के मुताबिक पाकिस्तान की इस कार्रवाई की गंभीरता का पता तब चल सकता है, जब इस कार्रवाई के तहत पाकिस्तान से आतंकियों को नेस्तनाबूद कर दिया जाए.

रवीश कुमार ने पाकिस्तान की सरकार से अपील करते हुए कहा कि हाफिज सईद को अब सजा दी जानी चाहिए क्योंकि वह घोषित आतंकवादी है और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद प्रस्ताव 1267 के तहत संयुक्त राष्ट्र प्रतिबंध समिति द्वारा सूचीबद्ध है. उनका कहना था, ‘हाफिज सईद और उसके आतंकवादी संगठनों के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कार्रवाई पाकिस्तान समेत संयुक्त राष्ट्र के सभी सदस्य राष्ट्रों की तरफ से वचनबद्धता है. इसलिए भारत उम्मीद करता है कि सईद को इस बार वाकई न्याय व्यवस्था के घेरे में लाया जाएगा.’