भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने उनके भविष्य को लेकर लगाये जा रहे कयासों के बीच वेस्टइंडीज दौरे के लिए खुद को ‘अनुपलब्ध’ बताया है. प्रादेशिक सेना की पैराशूट रेजिमेंट में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल के पद पर तैनात महेंद्र सिंह धोनी के बारे में यह पता चला है कि वे अगले दो महीने अपनी रेजिमेंट के साथ बिताएंगे. पीटीआई के मुताबिक बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने इस बात की पुष्टि की. अधिकारी ने कहा, ‘धोनी ने वेस्टइंडीज दौरे के लिए खुद को अनुपलब्ध बताया है क्योंकि वे अपने अगले दो महीने अपनी अर्धसैनिक रेजिमेंट के साथ बिताएंगे.’

38 वर्षीय महेंद्र सिंह धोनी ने रविवार को चयन समिति की बैठक से पहले बीसीसीआई को अपने फैसले की जानकारी दी है. अधिकारी ने हालांकि यह स्पष्ट किया कि धोनी अभी क्रिकेट से संन्यास नहीं ले रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘वे अभी क्रिकेट से संन्यास नहीं ले रहे हैं. वे अपनी अर्धसैनिक रेजिमेंट की सेवा के लिए दो महीने का विश्राम ले रहे हैं, जो उन्होंने बहुत पहले तय किया था.’ अधिकारी का आगे कहना था, ‘हम कप्तान विराट कोहली और चयन समिति के प्रमुख एमएसके प्रसाद को उनके फैसले से अवगत करा देंगे.’

महेंद्र सिंह धोनी के दौरे से बाहर होने के बाद ऋषभ पंत तीनों प्रारूपों में विकेटकीपर बनने की पहली पसंद होंगे, जबकि रिद्धिमान साहा टेस्ट में पंत के साझेदार हो सकते हैं.