दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित पंचतत्व में विलीन हो गई हैं. रविवार शाम को दिल्ली के निगम बोध घाट पर उनका पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया. इस मौके पर कई बड़े नेताओं के साथ सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद थे.

इससे पहले रविवार दोपहर को उनका पार्थिव शरीर कांग्रेस मुख्यालय लाया गया. पार्टी मुख्यालय पर कांग्रेस नेता सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, अहमद पटेल और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तथा कमलनाथ समेत कई शीर्ष कांग्रेस नेताओं ने दीक्षित को श्रद्धांजलि दी. इससे पहले भाजपा के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी और पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शीला दीक्षित के आवास पर पहुंच कर उन्हें श्रद्धांजलि दी थी.

बीते शनिवार को तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं कांग्रेस नेता शीला दीक्षित का दिल का दौरा पड़ने की वजह से निधन हो गया था. उन्होंने दिल्ली के एक निजी अस्पताल में अंतिम सांस ली.