कर्नाटक में मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी की अगुवाई वाली जनता दल - सेकुलर (जेडीएस) और कांग्रेस की गठबंधन सरकार विश्वासमत परीक्षण में असफल हो गई है. बुधवार शाम को विश्वासमत प्रस्ताव पर मतदान पूरा हो गया है. इस दौरान इसके पक्ष में जहां 99 वोट डाले गए वहीं विरोध में 105 वोट पड़े. कहा जा रहा है कि कुछ ही देर बाद एचडी कुमारस्वामी कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला से मिलकर उन्हें अपना इस्तीफा सौंप देंगे. कर्नाटक विधानसभा में चार दिन से विश्वासमत पर चर्चा चल रही थी.

इस बीच कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प होने की खबरें भी आई हैं. इनके देखते हुए पुलिस ने यहां धारा 144 लगा दी है जो कल शाम तक जारी रहेगी.

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक एचडी कुमारस्वामी ने सदन में अपनी सरकार के बहुमत खोने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि यह सब राजनीति का हिस्सा है. वहीं विश्वासमत परीक्षण के नतीजे को कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता बीएस येद्दियुरप्पा ने लोकतंत्र की जीत बताया है. इसके साथ ही उन्होंने कहा है, ‘लोग कुमारस्वामी की सरकार से तंग आ चुके थे. लेकिन मैं उन्हें आश्वस्त करना चाहता हूं कि कर्नाटक में अब विकास का एक नया दौर शुरू होगा.’

न्यूज9 ने भाजपा नेता आर अशोक के हवाले से कहा है कि पार्टी के नेता राज्यपाल वजुभाई वाला से मिलेंगे और सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे. अशोक ने यह भी कहा है कि वे येद्दियुरप्पा के अगला मुख्यमंत्री बनने को लेकर आश्वस्त हैं.