ट्विटर ने ईरान के सरकारी मीडिया संस्थान, न्यूज एजेंसियों के अकाउंट बंद किए | रविवार, 21 जुलाई 2019

ट्विटर ने ईरान के सरकारी मीडिया संस्थानों के अकाउंट बंद कर दिए. सरकारी मीडिया संस्थानों और कई न्यूज एजेंसियों के ट्विटर अकाउंट पर लिख कर आ रहा है कि ट्विटर नियमों का उल्लंघन करने वाले अकाउंट को बंद कर दिया गया है. ट्विटर अकाउंट बंद होने के बारे में ईरानी मीडिया संस्थानों और ट्विटर के पक्ष अलग-अलग हैं. मीडिया संस्थानों का कहना है कि उनके अकाउंट इसलिए बंद किए गए हैं क्योंकि उन्होंने ईरान द्वारा एक ब्रितानी टैंकर के जब्त होने की खबर दी थी. ईरान की मेहर संवाद समिति ने कहा कि फारसी भाषा का उसका अकाउंट शुक्रवार देर रात से ही बंद कर दिया गया क्योंकि उसने होरमुज जलडमरुमध्य में टैंकर स्टेना इंपेरो की जब्ती को लेकर खबर दी थी.

हांगकांग में चल रहे विरोध प्रदर्शनों को चीन ने बिल्कुल भी बर्दाश्त न करने की बात कही | सोमवार, 22 जुलाई 2019

चीन ने हांगकांग में बढ़ते सरकार विरोधी प्रदर्शनों पर भारी नाराजगी जताई. चीनी विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि इन्हें बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. ये बयान तब आया जब सोमवार को इन प्रदर्शनकारियों ने हांगकांग में चीन के प्रतिनिधि के कार्यालय में हंगामा किया. हजारों लोगों ने इस कार्यालय को जाने वाली सड़क जाम कर दी और इसकी दीवारों पर अंडे समेत कई चीजें फेंकी. ये प्रदर्शन हांगकांग से चीन प्रत्यर्पण को आसान बनाने वाले एक विधेयक के चलते शुरू हुए थे. भारी विरोध के चलते प्रशासन को इस विधेयक से कदम पीछे खींचने पड़े. हालांकि प्रदर्शनकारी अब भी सड़कों पर हैं. अब उनकी मांगों के केंद्र में लोकतांत्रिक सुधार हैं.

बोरिस जॉनसन ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री होंगे | मंगलवार, 23 जुलाई 2019

बोरिस जॉनसन ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री होंगे. मंगलवार को उन्होंने जेरेमी हंट को हराकर सत्ताधारी कंजर्वेटिव पार्टी के नेता पद की दौड़ जीत ली. बोरिस जॉनसन इससे पहले ब्रिटेन के विदेश मंत्री और लंदन के मेयर भी रह चुके हैं. कंजर्वेटिव पार्टी में नए मुखिया की तलाश प्रधानमंत्री थेरेसा मे के इस्तीफे के ऐलान के बाद शुरू हुई थी. थेरेसा मे ने ये कदम सात जून को तब उठाया जब ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से बाहर होने यानी ब्रेक्जिट के उनके मसौदे को संसद ने कई बार ठुकरा दिया. बोरिस जॉनसन को भी ब्रेक्जिट का मजबूत पैरोकार माना जाता है.

कश्मीर को लेकर डोनाल्ड ट्रंप के बयान पर सरगर्मी जारी, उनके मुख्य आर्थिक सलाहकार ने कहा - राष्ट्रपति झूठ नहीं बोलते | बुधवार, 24 जुलाई 2019

बीते सोमवार को अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा था कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे कश्मीर विवाद पर मध्यस्थता का अनुरोध किया था. इसके बाद बुधवार को डोनाल्ड ट्रंप के मुख्य आर्थिक सलाहकार लैरी कडलो ने कहा कि राष्ट्रपति झूठ नहीं बोलते. ये बात उन्होंने तब कही जब एक पत्रकार वार्ता में उनसे पूछा गया कि क्या डोनाल्ड ट्रंप का दावा गलत है. लैरी कडलो ने उल्टे इस तरह का सवाल पूछे जाने को अशिष्टता बताया. डोनाल्ड ट्रंप के बयान को भारत पहले ही खारिज कर चुका है. विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कल राज्यसभा में कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऐसा कोई अनुरोध नहीं किया है और पाकिस्तान के साथ सभी लंबित मुद्दों का समाधान द्विपक्षीय तरीके से ही किया जाएगा.

उत्तर कोरिया ने परमाणु वार्ता बहाल करने की कोशिशों को अंगूठा दिखाया, फिर मिसाइलें दागीं | गुरुवार, 25 जुलाई 2019

उत्तर कोरिया ने फिर मिसाइल परीक्षण किया. गुरूवार को उसने समुद्र में छोटी दूरी की दो मिसाइलें दागीं. इन मिसाइलों ने जापान सागर में गिरने से पहले करीब 430 किलोमीटर की दूरी तय की. उत्तर कोरिया के इस कदम से अमेरिका के साथ परमाणु वार्ता बहाल करने के प्रयासों को धक्का लगा है. कई लोग इसे अमेरिका और दक्षिण कोरिया के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यासों को लेकर उसके आक्रोश का संकेत भी मान रहे हैं. दक्षिण कोरिया और जापान ने उत्तर कोरिया के इस कदम पर चिंता जताई है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के बीच बीते महीने अचानक हुई बैठक के बाद ये उत्तर कोरिया का पहला मिसाइल परीक्षण है. इस मुलाकात के दौरान दोनों नेता उत्तर कोरिया के परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए बातचीत की बहाली पर सहमत हो गए थे.

इमरान खान आमंत्रित करें तो हम वार्ता के लिए तैयार : अफगान तालिबान | शुक्रवार, 26 जुलाई 2019

अफगान तालिबान आतंकी गुट ने कहा कि अगर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अफगानिस्तान में चल रहे संघर्ष को खत्म करने के लिये उसे बातचीत का निमंत्रण देते हैं तो वह वार्ता के लिये तैयार है. पीटीआई के मुताबिक गुरूवार को कतर की राजधानी दोहा में तालिबान के राजनीतिक कार्यालय के प्रवक्ता सोहेल शाहीन ने बीबीसी उर्दू से बातचीत में यह बात कही है. उन्होंने कहा, ‘हम अक्सर क्षेत्र के देशों का दौरा करते हैं और निश्चित रूप से पाकिस्तान भी जाएंगे जो हमारा मुस्लिम पड़ोसी है. अगर इस्लामाबाद की तरफ से औपचारिक निमंत्रण आता है तो.’

इमरान खान के दौरे के बाद अमेरिका ने पाकिस्तान के साथ एफ-16 से जुड़ी सैन्य बिक्री को मंजूरी दी| शनिवार, 27 जुलाई 2019

अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन ने पाकिस्तान को 12 करोड़ 50 लाख डॉलर की उस सैन्य बिक्री को मंजूरी दे दी जिससे पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमानों के इस्तेमाल पर चौबीसों घंटे नजर रखी जा सकेगी. पीटीआई के मुताबिक शनिवार को पेंटागन ने अमेरिकी कांग्रेस को इस बात की सूचना दी. यह फैसला अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की बैठक के कुछ दिन बाद हुआ है. हालांकि अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान को दी जाने वाली सुरक्षा सहायता पर रोक लगाने का डोनाल्ड ट्रंप का जनवरी 2018 का आदेश अब भी लागू है.

देश और दुनिया की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.