‘उन्नाव बलात्कार मामले पर क्या भाजपा सरकार से न्याय की उम्मीद की जा सकती है?’  

— प्रियंका गांधी, कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव

प्रियंका गांधी ने यह बात एक ट्वीट के जरिये उन्नाव बलात्कार मामले की पीड़िता के एक सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल होने को लेकर कही. इसी ट्वीट से उन्होंने इस दुर्घटना को चौंकाने वाला भी बताया. साथ ही सवालिया लहजे में कहा, ‘इस केस में चल रही सीबीआई जांच कहां तक पहुंची है. आरोपित विधायक अभी तक भाजपा में क्यों है. मामले की पीड़िता और गवाहों की सुरक्षा में ढिलाई क्यों बरती गई?’

‘कांग्रेस अध्यक्ष का चयन चुनाव के जरिये होना चाहिए.’

— शशि थरूर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

शशि थरूर ने यह बात एक बातचीत के दौरान कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘अध्यक्ष पद पर आवेदन के लिए पार्टी के हर स्तर के कार्यकर्ता को मौका मिलना चाहिए. साथ ही जो सबसे योग्य हो उसे चुना जाना चाहिए. ऐसा होने से पार्टी में विश्वसनीयता को बढ़ावा मिलेगा.’ इसके साथ ही शशि थरूर का यह भी कहना था, ‘पार्टी अध्यक्ष के अभाव में कांग्रेस में एक खालीपन-सा आ गया है जिसे खत्म किया जाना बेहद जरूरी है.’


‘जम्मू-कश्मीर से धारा 35ए और 370 को नहीं हटाया जाना चाहिए.’

— फारुख अब्दुल्ला, जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री

फारुख अब्दुल्ला ने यह बात कश्मीर में दस हजार अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती के मद्देनजर कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘ये धाराएं भारत और जम्मू-कश्मीर के आपसी रिश्ते की बुनियाद हैं.’ फारुख अब्दुल्ला ने आगे कहा, ‘हम हिंदुस्तानी हैं लेकिन यह दोनों धाराएं हमारे लिए अत्यंत महत्वपूर्ण भी हैं.’


‘किसी को जबरन मुसलमान बनाने का अधिकार पैगंबर को भी नहीं था.’

— इमरान खान, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री

इमरान खान ने यह बात इस्लामाबाद में एक कार्यक्रम के दौरान दिए संबोधन में कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘जब अल्लाह ने पैगंबर को यह ताकत नहीं दी तो हम भला ऐसा करने वाले कौन होते हैं?’ इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘बंदूक की नोक पर या जबरदस्ती शादियां करके किसी को मुसलमान बनाना इस्लाम नहीं है. किसी के मुसलमान न होने पर उसे मारना भी इस्लाम के खिलाफ है.’ इमरान खान का यह भी कहना था, ‘कौन-सा इंसान किस धर्म में रहेगा, इसे तय करना खुद अल्लाह के हाथ में है.’


‘रोहित शर्मा के साथ मतभेद की खबरें बकवास हैं.’

— विराट कोहली, भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान

विराट कोहली ने यह बात वेस्टइंडीज के दौरे पर टीम की रवानगी से पहले पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘मेरे और रोहित के बीच कोई मसला नहीं है. मैंने पिछले दिनों काफी कुछ ऐसा सुना कि टीम का माहौल अच्छा नहीं है लेकिन वाकई यदि ऐसा होता तो विश्व कप में हम अच्छा नहीं खेल पाते.’ इसी मौके पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने यह भी कहा, ‘टीम के सदस्यों का रवि शास्त्री के प्रति सम्मान है. कोच के तौर पर उनकी सेवाएं जारी रहने पर हम सब को खुशी होगी.’