जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों ने एक बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के दो आतंकवादियों को मार गिराया है. इनके नाम फयाज पंजू और शानू शौकत. पंजू जेईएम का शीर्ष कमांडर था. इससे पहले सुरक्षा बलों को दक्षिण कश्मीर में अनंतनाग जिले के बिजबेहड़ा इलाके में इनके छुपे होने की सूचना मिली थी. इसी के मद्देनजर सेना ने प्रदेश पुलिस और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के साथ वहां संयुक्त तलाशी अभियान चलाया था. उसी दौरान एक घर में छुपे इन आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां बरसानी शुरू कर दीं. फिर सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए इन दोनों को मार गिराया.

इस बीच जम्मू-कश्मीर पुलिस ने मारे गए आतंकवादियों के पास से काफी मात्रा में गोला बारूद बरामद किए जाने की बात भी कही है. प्रदेश पुलिस ने यह भी कहा है कि फयाज पंजू बीते जून में सीआरपीएफ पर हुए एक आतंकी हमले की साजिश रचने में भी शामिल था. उस हमले में सीआरपीएफ के एसएचओ अरशद खान सहित छह जवान शहीद हो गए थे.

इधर, दो दिन पहले भी जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद के खिलाफ सुरक्षा बलों को तब बड़ी कामयाबी मिली थी जब उन्होंने जेईएम के शीर्ष कमांडर मुन्ना लाहौरी को मार गिराया था. उस दौरान उसका एक साथी भी मारा गया था. वह मुठभेड़ भी कश्मीर के दक्षिणी हिस्से में आने वाले शोपियां जिले में हुई थी. बताया जाता है कि मुन्ना लाहौरी पुलवामा आतंकी हमले जैसी साजिश रच रहा था. इसी साल फरवरी के महीने में हुए पुलवामा आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे.