भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) ने ‘चंद्रयान-2’ से ली गई पृथ्वी की तस्वीरों का पहला सैट जारी किया है. चंद्रयान-2 पर लगे एल-14 कैमरे से ली गईं ये तस्वीरें धरती को विभिन्न रूपों में दिखाती हैं. रविवार को इसरो ने इन तस्वीरों को ट्वीट करते हुए लिखा, ‘चंद्रयान-2 के एल-14 कैमरों से तीन अगस्त 2019 को ली गईं पृथ्वी की तस्वीरें.’

चंद्रयान-2, चंद्रमा के अध्ययन के लिए भेजा गया भारत का दूसरा मिशन है. इसे पिछले पखवाड़े ही अंतरिक्ष में प्रक्षेपित किया गया था. इसरो के वैज्ञानिकों की योजना इसे चांद के दक्षिणी ध्रुव पर उतारने की है, जहां अब तक कोई देश पहुंच नहीं सका है.

चंद्रयान 2 में आर्बिटर, लैंडर और रोवर लगाये गए हैं और इसके सितंबर के पहले सप्ताह में चांद पर उतरने की उम्मीद जताई जा रही है. चीन, रूस और अमेरिका के बाद भारत ऐसा चौथा देश होगा जो चांद पर साफ्ट लैंडिंग के जरिए रोवर को उतारेगा.

इसरो की शुरुआत के बाद से चंद्रयान-2 को उसका सबसे जटिल और प्रतिष्ठित मिशन माना जा रहा है. इसरो ने 11 साल पहले ‘चंद्रयान-1’ को रवाना किया था. इसका कार्यकाल 312 दिन का था और यह 29 अगस्त, 2009 तक कार्यरत रहा था.