पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को गुरुवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भारत रत्न से सम्मानित किया. राष्ट्रपति भवन में हुए इस सम्मान समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और उप-राष्ट्रपति वेंकैया नायडू सहित तमाम हस्तियां मौजूद थीं. लेकिन इस समारोह में गांधी परिवार की गैरमौजूदगी ने सबका ध्यान खींचा. कांग्रेस में एक लंबा समय बिताने वाले इस दिग्गज को यह सर्वोच्च नागरिक सम्मान मिलने के मौके पर न सोनिया गांधी मौजूद थीं और न ही राहुल गांधी. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी इस समारोह में नहीं थे.

बताया जा रहा है कि राष्ट्रपति भवन ने राहुल गांधी को न्योता भेजा था. लेकिन उनकी गैरमौजूदगी के कारण के बारे में कुछ पता नहीं चल पाया. हालांकि आनंद शर्मा, अहमद पटेल और शशि थरूर जैसे कांग्रेस के कुछ वरिष्ठ नेता इस समारोह में मौजूद थे.

बीते कुछ समय से राहुल गांधी की सार्वजनिक सक्रियता लगातार घटती गई है. यह उनके कांग्रेस का अध्यक्ष पद छोड़ने के बाद से हुआ है. राहुल गांधी ने यह फैसला लोकसभा चुनाव में पार्टी के महज 52 सीटों पर सिमट जाने के बाद लिया था. सोशल मीडिया पर भी उनकी सक्रियता में गिरावट देखने को मिल रही है. उनके बार-बार कहने पर भी उनकी जगह पर पार्टी अब तक कोई नया अध्यक्ष नहीं चुन पाई है.