पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत पर पुलवामा आतंकी हमले के बाद की तरह ही ‘युद्ध के हालात’ बनाने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि भारत कश्मीर मुद्दे से दुनिया का ध्यान हटाने के लिए ऐसा कर रहा है.

पीटीआई के मुताबिक शुक्रवार को पत्रकारों के एक समूह से बात करते हुए इमरान खान ने दावा किया कि भारत पुलवामा की घटना के बाद जैसे हालात बनाने की कोशिश कर रहा है, ताकि वह घाटी में हो रहे घटनाक्रम से दुनिया का ध्यान भटका सके.

एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने इमरान खान को यह कहते हुए उद्धत किया, ‘खतरा वास्तविक है. हमें इस तरह की स्थिति पर जवाब देना होगा और हमने इसी तरह से दुनिया में देशों के बीच युद्ध शुरू होते हुए देखा है.’

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने आगे कहा, ‘ऐसा प्रतीत होता है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के मध्यस्थता की पेशकश से भारत ने कश्मीर के विशेष दर्जे पर तेजी से कदम उठाया...युद्ध कोई विकल्प नहीं है, लेकिन पाकिस्तान को दुनिया को यह बताने की जरूरत है कि कश्मीर में क्या चल रहा है.’

उधर, ‘युद्ध जैसी स्थिति’ वाली इमरान खान की टिप्पणी पर भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान के लिए यह नई वास्तविकता देखने और भारतीय मामलों में हस्तक्षेप करना बंद करने का समय है.