यरूशलम के पवित्र स्थल के पास ईद-उल-अजहा के नमाज के दौरान मुस्लिम श्रद्धालुओं और इजराइल पुलिस के बीच रविवार को जमकर संघर्ष हुआ. फिलस्तीन के चिकित्साकर्मियों के मुताबिक, झड़प में कम से कम 14 लोग जख्मी हो गए हैं, जिनमें एक की हालत गंभीर है.

यह संघर्ष तब शुरु हुआ जब ईद-उल-अजहा की नमाज के लिए हजारों मुस्लिम यरूशलम के पवित्र स्थल पहुंचना शुरु हुए. रविवार का दिन होने के कारण वहां यहूदी भी बड़ी संख्या में शोक मनाने के लिए पहुंचे थे. यहूदी प्राचीन समय में यहां अपने दो मंदिर तोड़े जाने का शोक मनाने पहुंचते हैं. इजरायल पुलिस ने मुस्लिम श्रद्धालुओं को रोकना शुरु किया. जिस वजह से मुस्लिम श्रद्धालुओं और पुलिस में संघर्ष जैसे हालात बन गए. पुलिस ने बताया कि पथराव में कम से कम चार अधिकारी घायल हुए हैं. प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

यरूशलम के पवित्र स्थल पर मुसलमान और यहूदी दोनों अपना दावा जताते हैं. मुस्लिम इसे अल-अक्सा मस्जिद परिसर बताते हैं और यहूदी इसे टेंपल माउंट कहते हैं. यह यहूदियों के लिए सबसे पवित्र स्थल है और मुस्लिमों के लिए तीसरा सबसे बड़ा पवित्र स्थान है. यह स्थल लंबे समय से इजरायल- फिलस्तीन संघर्ष का केंद्र बिंदु रहा है.