जम्मू-कश्मीर में आज कड़े सुरक्षा इंतजामों के बीच ईद का त्योहार मनाया जा रहा है. रविवार को ईद की तैयारियों के लिए कुछ इलाकों की सुरक्षा में ढील दी गई थी. इसके तहत जम्मू-कश्मीर के कुछ बाजार, बैंक और एटीएम खुले रहे थे. हालांकि, कुछ मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक इसी दौरान घाटी में एक बार फिर कर्फ्यू लगा दिया गया. उधर, अधिकारियों ने कहा कि वे लोगों को जरूरी चीजें मुहैया कराने और सोमवार को मस्जिदों में नमाज अदा करने के लिए जरूरी कदम उठा रहे हैं.

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक अधिकारियों की तरफ से कर्फ्यू दोबारा लगाए जाने की आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है. हालांकि श्रीनगर के मजिस्ट्रेट शाहिद चौधरी ने कहा, ‘मैं जानता हूं कि लोगों को और सामान्य तथा खुशनुमा ईद मिलनी चाहिए. हम दिक्कतों को कम करने की कोशिश कर रहे हैं. नमाज पढ़ने को लेकर हमने इमामों से बातचीत की है.’

बता दें कि पिछले हफ्ते संसद ने धारा 370 को हटाते हुए जम्मू-कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा खत्म कर दिया था. तभी से राज्य में संचार और इंटरनेट समेत कई तरह की सेवाएं बंद हैं. फिलहाल घाटी के हालात कैसे हैं, इसे लेकर सरकार और कुछ मीडिया संस्थानों के अपने-अपने दावे हैं. कुछ रिपोर्टों के मुताबिक बीते शुक्रवार को श्रीनगर में धारा 370 हटाए जाने के खिलाफ बड़ा विरोध प्रदर्शन हुआ था. लेकिन सरकार और राज्य पुलिस ने इन रिपोर्टों को खारिज किया है.

खबर के मुताबिक फिलहाल प्रशासन ने घाटी में संवेदनशील जगहों पर मजिस्ट्रेटों की तैनाती की है. लोगों की सुविधा के लिए यहां 300 विशेष टेलीफोन बूथ लगाए जा रहे हैं. इसी के तहत शुक्रवार को लोगों को अपने-अपने इलाकों की मस्जिदों में नमाज पढ़ने की छूट दी गई थी. लेकिन अब एक बार फिर कर्फ्यू लगा दिया गया है और जिला प्रशासन हालात पर पैनी निगाह बनाए हुए है.