केरल में भारी बारिश के चलते हुए हादसों में मरने वालों की संख्या बढ़कर 76 हो गयी है. पीटीआई के मुताबिक 2.87 लाख लोग राहत शिविरों में शरण लिये हुए हैं. हालांकि राहत की बात यह है कि पानी अब घटने लगा है. केरल के मलप्पुरम तथा वायनाड में भूस्खलन से प्रभावित कवलप्परा और पुथुमाला इलाकों में बचाव अभियान अब भी जारी है. अभी तक जो 58 व्यक्ति लापता हैं उनमें से 50 मलप्पुरम से हैं.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने के लिये केरल में हैं. सोमवार सुबह उन्होंने वायनाड संसदीय क्षेत्र के पर्वतीय शहर तिरुवम्बाडी में एक राहत शिविर का दौरा किया. राहुल गांधी वायनाड से सांसद हैं. शिविर में लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘संकट की इस घड़ी में हम सभी आपके साथ हैं.’ उन्होंने कांग्रेस और यूडीएफ के कार्यकर्ताओं से बाढ़ से प्रभावित लोगों को हरसंभव मदद मुहैया कराने की अपील की. वायनाड के पुथुमाला में भूस्खलन की एक और घटना से इलाके में दहशत का माहौल है. 10 लोगों के शव बरामद किये गये हैं और सात लोग लापता हैं.

वायनाड में हुई तबाही का जायजा लेते राहुल गांधी

बारिश का असर परिवहन सेवाओं पर भी पड़ा है. दक्षिण रेलवे ने ने एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि ओखा-एर्णाकुलम एक्सप्रेस, बरौनी एर्णाकुलम राप्तीसागर, तिरुवनंतपुरम-अहिल्यानगरी एक्सप्रेस और कोचुवेली हैदराबाद विशेष ट्रेन को आज रद्द कर दिया गया है. इस बीच केरल विश्वविद्यालय ने भी 13 अगस्त को होने वाली सभी परीक्षाओं को रद्द कर दिया है.