दिल्ली के लोगों को बिजली के बिलों में राहत मिलना जारी है. पहले 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली का वादा करने के बाद अरविंद केजरीवाल सरकार ने कहा है कि वह 800 रुपये तक के बिजली बिलों पर सौ प्रतिशत सब्सिडी देगी. हिंदुस्तान टाइम्स ने अधिकारियों के हवाले से बताया कि अब दिल्ली के लोगों को 200 नहीं, बल्कि 208 यूनिट तक की बिजली के इस्तेमाल पर कोई बिल नहीं भरना होगा. इसके अलावा उन ग्राहकों को भी बिल में 800 रुपये की छूट दी जाएगी जो 400 यूनिट से ज्यादा बिजली खर्च नहीं करते.

खबर के मुताबिक बिजली विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम नहीं जाहिर करने की शर्त पर बताया, ‘यह गलतफहमी है कि केवल 200 यूनिट तक खर्च करने वालों को पूरी राहत मिलेगी. नई योजना के तहत 204 यूनिट तक की बिजली खर्च करने वालों को भी कोई बिल नहीं चुकाना होगा. 400 यूनिट खर्च करने वाले ग्राहकों को बिल में सीधे 800 रुपये तक की छूट दी जाएगी.’

दिल्ली में करीब 49 लाख घरेलू बिजली ग्राहक हैं. साल 2018-19 में करीब 26 लाख ग्राहक एक महीने में 200 यूनिट और 14 लाख ग्राहक 200 से 400 यूनिट तक बिजली खर्च कर रहे थे. यानी आम आदमी पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार की नई बिजली योजना बहुत बड़ी संख्या में दिल्ली के लोगों को राहत देने वाली है. लेकिन इस पर खर्च कितना आएगा, इस बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं है. हालांकि अधिकारियों के अनुमान के मुताबिक इस पूरी योजना के चलते बिजली के बिलों में दी जाने वाली सब्सिडी का बोझ कम से कम 300 करोड़ रुपये तक बढ़ेगा.