देश में घरेलू यात्री वाहनों की बिक्री में गिरावट जारी है. बीते नौ महीनों से इसमें सुधार नहीं हुआ है. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक बीते महीने भी घरेलू यात्री वाहनों की बिक्री में करीब 31 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. अखबार ने बताया कि पिछले साल जुलाई में देश में दो लाख 90 हजार 931 घरेलू यात्री वाहन इकाइयों की बिक्री हुई थी. इस साल यह आंकड़ा गिर कर दो लाख 790 तक आ गया.

मंगलवार को सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक घरेलू कारों की बिक्री 35.95 प्रतिशत घटी है. पिछले साल जुलाई में एक लाख 91 हजार 979 कारें बिकी थीं. वहीं, जुलाई 2019 में यह संख्या एक लाख 22 हजार 956 हो गई. यही हाल मोटरसाइकल की बिक्री का है. जुलाई 2018 में देश में 11 लाख 51 हजार 324 यूनिट की बिक्री हुई थी. जबकि जुलाई 2019 में यह घट कर नौ लाख 33 हजार 996 हो गई. यानी 18.88 प्रतिशत की गिरावट.

वहीं, सभी प्रकार के दोपहिया वाहनों की बात करें तो उनकी बिक्री में कुल 16.82 प्रतिशत की गिरावट आई है. इसके अलावा व्यावसायिक वाहनों की बात करें तो उनकी बिक्री 25.71 प्रतिशत तक कम हो गई है. जुलाई 2018 में जहां 76 हजार 545 व्यावसायिक वाहन बिके, वहीं जुलाई 2019 में यह संख्या 56 हजार 866 हो गई.